स्मार्ट फोन पाकर खिले आदिवासी बच्चों के चेहरे

मुंबई
मोबाइल फोन के कारण ऑनलाइन शिक्षा से वंचित आरे कॉलोनी, खंभापाड़ा के 25 आदिवासी छात्रों को भाजपा उत्तर भारतीय मोर्चा ने स्मार्ट फोन वितरित किए। रविवार को भाजपा उत्तर भारतीय मोर्चा के अध्यक्ष संजय पांडेय ने आदिवासी छात्रों को स्मार्ट फोन बांटे। इससे अब विद्यार्थियों को पढ़ाई करने में मदद मिल सकेगी। इससे बच्चों के चेहरों पर मुस्कान दौड़ गई।
भाजपा उत्तर भारतीय मोर्चा के अध्यक्ष संजय पांडेय ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पिछले कई महीनों से स्कूल और कॉलेज बंद हैं। छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और उनकी शिक्षा को नुकसान न पहुंचे, इसलिए ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की गई हैं। लॉकडाउन के कारण बड़ी संख्या में नौकरियां चली गई हैं और लोगों को घर चलाना मुश्किल हो गया है। ऐसी स्थिति में कई गरीब जरूरतमंद छात्रों को मोबाइल खरीदकर देना उनके माता-पिता के लिए संभव नहीं है। घर पर स्मार्टफोन नहीं हैं, इस कारण कई छात्र अभी भी शिक्षा से वंचित हैं। पांडेय ने कहा कि आरे कॉलोनी के खंभापाड़ा में रहने वाले आदिवासी बच्चों की यही दुर्दशा थी। ऐसे बच्चों को शिक्षा की धारा में लाने में उनकी मदद करना हमारा लक्ष्य है। पांडेय ने कहा कि 25 आदिवासी छात्रों को स्मार्टफोन मिलने के बाद उनके और उनके माता-पिता के चेहरे पर मुस्कुराहट से मुझे बहुत ख़ुशी मिली है। उन्होंने कहा कि इस संकटकाल में भाजपा उत्तर भारतीय मोर्चा गरीबों और जरूरतमंदों की यथासंभव मदद करने की कोशिश करेगी। स्मार्टफोन बांटने के दौरान संजय पांडेय के साथ मुंबई भाजपा युवा नेता उदय प्रताप सिंह सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget