इंसेफ्लाइटिस को हराया अब कोरोना की बारी: योगी

लखनऊ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जिस प्रकार हमने इंसेफ्लाइटिस को मिशन मोड में आकर हराया है, ठीक उसी तरह कोरोना को भी हराएंगे। यह पूरे देश की लड़ाई है, जिसे हम सबको मिल कर लड़ना होगा। जब तक वैक्सीन या दवा उपलब्ध नहीं हो जाती व्यापक जागरुकता से ही कोरोना पर काबू पाना होगा।
दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनप्रतिनिधियों से मुलाकात और उनके क्षेत्र की समस्याएं जानने के बाद पत्रकारों से बातचीत की। एनेक्सी भवन में आयोजित प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री ने इंसेफ्लाइटिस के खिलाफ चली लंबी लड़ाई और इसकी जीत में भूमिका निभाने वाले पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल में लाखों मासूमों की मौत और उन्हें जीवन भर का दंश देने वाला इंसेफ्लाइटिस खत्म हो चुका है। इस मौसम में जब हजारों बच्चे इंसेफ्लाइटिस की चपेट में आ जाते थे, अब उनका आंकड़ा न के बराबर पर पहुंच गया है। यह संभव हुआ है तो अंतर विभागीय समन्वय से, जिसके चलते हम इंसेफ्लाइटिस से मौतों की संख्या 90 से 95 फीस कम कर पाए हैं। वर्ष 2016 से 2020 तक इसके लिए मिशन मोड में आकर काम किया गया था, उसी मिशन मोड के जरिये कोरोना को भी हराना है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यक्रमों की शुरुआत जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक से की। जिसमें सीएम ने सांसद और विधायकों को एकजुट रहने की सलाह देते हुए दस दिन में बिगड़ी गोरखपुर की छवि को संभालने के निर्देश दिए हैं। सर्किट हाउस सभागार में हुई बैठक में नगर विधायक डॉ राधा मोहन दास अग्रवाल, विपिन सिंह, महेंद्र पाल सिंह, शीतल पांडेय, संत प्रसाद, फतेह बहादुर सिंह, संगीता यादव, सांसद कमलेश पासवान शामिल रहे। कोरोना संक्रमण के चलते बांसगांव विधायक विमलेश पासवान बैठक में उपस्थिति नहीं हुए। बैठक में गोरखपुर सांसद रवि किशन भी मौजूद रहे।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget