महागठबंधन में खटपट

 जीतन राम मांझी के समर्थन में उपेंद्र कुशवाहा 

 पटना
 पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के महागठबंधन से अलग होने के फैसले के बाद माना जा रहा था कि अब सीट बंटवारा आसान हो जाएगा और कहीं कोई दिक्कत नहीं आएगी। खबर यह भी आई की आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव ने एक फॉर्मूला भी सेट कर दिया, जिसमें आरजेडी के लिए 150 सीटें तय कर दीं और शेष अन्य घटक दलों के लिए छोड़ दिया गया। लेकिन, लगता है कि सीट शेयरिंग का मसला अभी हल नहीं हुआ है। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा की नाराजगी सामने आने के बाद यह मामला और उपेन्द्र कुशवाहा ने जीतन राम मांझी के गठबंधन से अलग होने के फैसले पर कहा कि मांझी का जाना गठबंधन के लिए दुखद है और हमें नुकसान हुआ है। गठबंधन का दायरा बढ़ाया जाना चाहिए और इसमें अब वामदलों को भी शामिल करना चाहिए। बता दें कि उपेन्द्र कुशवाहा की मौजूदगी में चल रही बैठक में पार्टी के प्रदेश पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए और राज्य में चुनावी हालात पर चर्चा की। इस दौरान पार्टी की रणनीति क्या होगी, इसको लेकर भी विमर्श किया गया। इस बीच सूत्रों से खबर है कि कांग्रेस भी यह मानती है कि परसेप्शन के लिहाज़ से मांझी का जाना ठीक नहीं हुआ। वहीं यह खबर भी आ रही है कि महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर अभी तक औपचारिक बातचीत शुरू भी नहीं हो सकी है। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget