बेवजह घूमने वालों पर पुलिस की कार्रवाई

दो हजार वाहनों को किया गया जब्त

Traffic Police
मुंबई
बिना अनुमति या आवश्यक सेवाओं के बिना सड़कों पर गाड़ियां चलाने वालों पर ट्रैफिक पुलिस की कार्रवाई जारी है। मंगलवार से शुक्रवार तक पुलिस ने करीब दो हजार वाहन जब्त किए हैं। यह कार्रवाई उन लोगों पर की गई है, जो बिना किसी काम के गाड़ी लेकर सड़कों पर घूम रहे थे। पुलिस ने पहले ही लोगों को सतर्क किया था कि नियम तोड़ने वालों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। हालांकि लोगों के मन में सवाल उठ रहे हैं कि हम अनलॉक की तरफ जा रहे हैं, जबकि पुलिस का कहना है कि वे सरकार के आदेशों का पालन कर रहे हैं।
मुंबई पुलिस के ट्वीट के रिप्लाई देते हुए संदीप नाम के व्यक्ति ने पुलिस पर व्यंग्य कसते हुए कहा है कि कृपया आप बिना परमिशन और अनावश्यक यात्रा क्या है, यह स्पष्ट कर सकते हैं? पश्चिम द्रुतगति महामार्ग पर ट्रैफिक देखकर आश्चर्य लगता है कि परमिशन दी हुई और आवश्यक वाहन ही सड़क पर दिखाई दे रहे हैं। शॉपिंग और व्यायाम के लिए बाहर जाते समय
ज्यादा दूर न जाए, यह सरकार का नियम है। यानी अगर कोई दहिसर में रहता होगा तो उसे गोरेगांव जाने की परमिशन नहीं होगी, क्योंकि उसे नजदीकी जगह पर जाने की परमिशन दी गई है।
एक अधिकारी ने बताया कि हमारे यहां पर कुछ जगहों पर हर दिन नाकाबंदी की जाती है, लेकिन लोग बिना किसी आवश्यकता के ही बाहर निकलने लगे हैं। इस वजह से हमारे पास इसके अलावा दूसरा पर्याय उपलब्ध नहीं है। जितने लोगों को परमिशन दी गई है, उससे अधिक लोग यात्रा कर रहे हैं, जिसकी वजह से नाकाबंदी बढ़ाई गई। तीन पहिया वाहनों में सिर्फ दो लोगों को यात्रा करने, चार पहिया वाहनों में तीन पैसेंजर और एक ड्राइवर की परमिशन है, लेकिन इसका पालन नहीं किया जा रहा है। मंगलवार को 250 से अधिक, बुधवार को 592, गुरुवार को 636, शुक्रवार को 550 वाहन जब्त किया गए हैं। दो किलोमीटर से ज्यादा यात्रा करने वाले व्यक्तियों पर कार्रवाई शुरू होने की वजह से अब पुलिस पर टीका टिप्पणी की जा रही है। ट्विटर पर पुलिस को कई प्रकार के तंज कसे जा रहे हैं।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget