पाकिस्तान में पनाह लिये हुए है पुलवामा हमले का आरोपी : MEA

नई दिल्ली 
पुलवामा आतंकी हमले की जांच को लेकर विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को पाकिस्तान पर निशाना साधा और कहा कि हमने घटना से जुड़े पर्याप्त सबूत साझा किए हैं, लेकिन वह जवाब देने से लगातार बच रहा है। इसके साथ ही मंत्रालय ने इस बात पर अफसोस जताया कि पुलवामा मामले में आरोपी जैश-ए-मोहम्मद आतंकी समूह का सरगना मसूद अजहर पाकिस्तान में पनाह लिए हुए है और उसके ऊपर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। गौरतलब है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में गत वर्ष आतंकवादी हमले की साजिश रचने और उसे अंजाम देने के लिए प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जैश- ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर समेत 19 लोगों के खिलाफ बीते 25 अगस्त को आरोप पत्र दायर किया था। पिछले वर्ष पुलवामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर हुए इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। 13,500 पृष्ठों के आरोपपत्र में मसूद अजहर, उसके भाइयों अब्दुल रऊफ और अम्मार अल्वी तथा उसके रिश्तेदार मोहम्मद उमर फारूक का नाम भी शामिल है, जिसने अप्रैल 2018 में भारत में घुसपैठ की थी और दक्षिण कश्मीर में एक मुठभेड़ में मारा गया था। अज़हर के भाइयों के अलावा, एनआईए के आरोपपत्र में समीर डार और अशाक अहमद नेंग्रू, दोनों दक्षिण कश्मीर के पुलवामा निवासियों और एक पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद इस्माइल का नाम फरार के तौर पर दिया गया है और यहां की अदालत से सभी छह के खिलाफ गैर-जमानती वारंट प्राप्त किया गया है। एनआईए की प्रवक्ता एवं एजेंसी की उप महानिरीक्षक सोनिया नारंग ने आरोपपत्र का विवरण देते हुए कहा कि आरोपपत्र डेढ़ साल की कठोर मेहनत और सावधानीपूर्वक जांच की परिणति है, जो अन्य केंद्रीय और राज्य सरकार की एजेंसियों के साथ-साथ विदेशी कानून-प्रवर्तन एजेंसियों से प्राप्त मूल्यवान सुराग पर हुई है। उन्होंने कहा, ''बहुत सारे डिजिटल, फोरेंसिक, दस्तावेजी और मौखिक साक्ष्य एकत्र किए गए हैं जो इस नृशंस और बर्बर हमले के लिए आरोपियों के खिलाफ एक मजबूत मामला बनाते हैं। आरोपपत्र में भारत में आतंकवादी हमले करने और कश्मीरी युवाओं को उकसाने और भड़काने में पाकिस्तान स्थित आतंकवादियों की संलिप्तता को रिकार्ड में लाया गया है।' 

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget