टमाटर 100 के पार, आलू ने लगाई हॉफ सेंचुरी

Vegetables

नई दिल्ली
हरी सब्जियों की कीमतों में वैसे ही आग लगी है, रही सही कसर आलू, प्याज और टमाटर पूरी कर रहे हैं। महंगाई की पिच पर आलू अभी हॉफ सेंचुरी लगाकर खेल रहा है । देश के कई शहरों में सदाबहार आलू अब 50 रुपये प्रति किलो के पार जाने को बेकरार है, वहीं प्याज भी अब कई जगहों पचासा पूरी कर चुका है। यानी 50 रुपये किलो पहुंचकर प्याज अब आंसू निकालने लगा है। वहीं टमाटर के तेवर और तीखे हुए हैं।
शतक लगाने के बाद भी टमाटर की ताबड़तोड़ बैटिंग जारी है और तुरा में 120 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया है। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में टमाटर की औसत खुदरा कीमत 50 रुपये थी, जबकि अधिकतम 120 और न्यूनतम 20 रुपये प्रति किलो। जहां तक आलू की बात करें तो देश में यह 25 से 60 रुपये किलो बिक रहा है, जबकि इसका औसत मूल्य 40 रुपये है। कई सरकारों की बलि लेने वाला प्याज अब ज्यादा उछलने लगा है। मंत्रालय के मुताबिक प्याज 18 से 60 रुपये किलो बिक रहा है। सरकार प्याज के रेट न बढ़ने पाए इसके लिए फौरी उपाय करते हुए सरकार ने प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। केंद्र सरकार के प्याज निर्यात पर पूरी तरह रोक लगाने को लेकर महाराष्ट्र में विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। बावजूद इसके दाम तेजी से बढ़ रहे हैं। जहां तक टमाटर की कीमतों में उछाल की बात है तो देश के दक्षिणी और पश्चिमी इलाकों में भारी बारिश से टमाटर की आपूर्ति प्रभावित हुई है।
बता दें देश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के कारण धान, दलहन, तिलहन, मसाले, फलों और सब्जियों सहित विभिन्न खड़ी फसलों को प्रभावित किया है। शुक्रवार को यह जानकारी संसद को दी गई। रबी और खरीफ दोनों में प्याज को बोया जाता है। महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक में ये फसल मई और नवंबर तक तैयार हो जाती हैं।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget