चीन ने 16 हजार मस्जिदों को ढहाया

मुसलमानों से धार्मिक आजादी छीन रहा ड्रैगन

Masjid
बीजिंग
मानवाधिकारों और नागरिकों की धार्मिक आजादी को लेकर घिरते रहे चीन का असली चेहरा एक बार फिर सामने आया है। एक ऑस्ट्रेलियन थिंक टैंक ने शुक्रवार को जारी रिपोर्ट में बताया है कि चीनी सरकार ने शिनजियांग प्रांत में 16 हजार से ज्यादा मस्जिदों को जमींदोज कर दिया है। इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस लाके में किस तरह मानवाधिकारों को कुचला जा रहा है।
थिंक टैंक ने कहा है कि उत्तरी-पश्चिमी प्रांत में 10 लाख से अधिक उइगर और दूसरे मुसलमानों को कैंप में कैद करके रखा गया है। शिनजियांग प्रांत में लोगों पर परंपरागत और धार्मिक गतिविधियों को छोड़ने का दबाव बनाया जा रहा है।
ऑस्ट्रेलियन स्ट्रैटिजिक पॉलिसी इंस्टीट्यूट के मुताबिक, करीब 16 हजार मस्जिदों को ढहा दिया गया है या नुकसान पहुंचाया गया है।
रिपोर्ट में कहा गया है कि अधिकतर मस्जिदों को पिछले तीन साल में बर्बाद किया गया है। एक अनुमान के मुताबिक, 8,500 मस्जिदों को पूरी तरह ढहा दिया गया है। अधिकतर नुकसान उरुमकी और काशगर के बाहरी इलाकों में पहुंचाया गया है। कई मस्जिद जिन्हें पूरी तरह नहीं ढहाया गया है, उनके गुंबदों और मीनारों को गिरा दिया गया। शिनजियांग में क्षतिग्रस्त सहित करीब 15,500 मस्जिद बच गए हैं। 1960 के दशक में सांस्कृतिक क्रांति से उठी राष्ट्रीय उथल-पुथल के दशक के बाद से इस क्षेत्र में मुस्लिमों के इबादतघरों की यह न्यूनतम संख्या है। इसके विपरीत थिंक टैंक ने जिन भी गिरिजाघरों और बौद्ध मंदिरों को अध्ययन में शामिल किया, उनमें से किसी को नहीं नुकसान पहुंचाया गया है।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget