2024 तक ही सबको मिल सकेगी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली
सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने कहा है साल 2024 से पहले दुनिया में हर किसी को कोरोना वायरस की वैक्सीन का निर्माण हो सकेगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक पूनावाला ने कहा कि दवा कंपनियों ने उत्पादन में तेजी से बढ़ोतरी नहीं की है।
जिससे की दुनिया भर के लोगों को समय पर टीका लगाया जा सकें। उन्होंने कहा कि धरती पर सभी लोगों को लिए कोरोना वैक्सीन मिलने के लिए कम से कम चार पांच साल का समय लग जाएगा। सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता कंपनी के सीईओ ने अनुमान लगाया है कि दुनिया को कोरोना के लिए लगभग 15 अरब खुराक की आवश्यकता होगी यदि यह दो-खुराक वाला टीका होगा तो। पूनावाला ने बताया की धरती पर सभी के लिए कोरोना वायरस का टीका मिलने में कम से कम चार-पांच साल लग जाएंगे। पूनावाला की यह टिप्पणी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि कोरोना की वैक्सीन अगले साल के पहले तिमाही तक तैयार हो सकती है।
बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पांच अंतरराष्ट्रीय दवा कंपनियों के साथ करार हुआ है। इनमें एस्ट्राजेनेका और नोवावैक्स भी शामिल है। ऑक्सफोर्ट की एस्ट्राजेनेका के टीके पर रोक लग गई थी, लेकिन अब एक बार फिर से परीक्षण बहाल कर दिया गया है। कुछ दिन पहले ब्रिटेन में एक प्रतिभागी में टीके का दुष्प्रभाव सामने आने के बाद वैश्विक स्तर पर परीक्षण रोक दिए गए थे। भारत में इस टीके के परीक्षण को लेकर पुणे स्थित वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने कहा कि वह देश में ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) से अनुमति मिलने के बाद ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 वैक्सीन के क्लिनिकल परीक्षण को फिर से शुरू करेगा।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget