फायर ब्रिगेड में 25 फीसदी पद खाली

मुंबई
आग बुझाने से लेकर किसी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिए दमकल जवानों का उपयोग किया जाता है। कोरोना काल में तो दमकल जवानों का उपयोग मनपा के अस्पतालों से लेकर प्रमुख इमारतों को सेनेटाइज करने तक के लिए किया गया। जान माल की रक्षा करने के लिए हर समय अपनी जान पर खेलने वाले दमकल विभाग में कुल नियमित पद के एक चौथाई पद रिक्त हैं। इसका खुलासा सूचना के अधिकार में मांगी गई जानकारी में सामने आया है ।मनपा प्रशासन द्वारा दमकल जवानों के रिक्त पद न भरकर उन पर कामों का बोझा डालता जा रहा है, जिसे लेकर दमकल विभाग में काफी नाराजगी देखने मिल रही है।
सूचना के अधिकार से मिली जानकारी के अनुसार प्रत्यक्ष कार्रवाई पर तैनात 14 प्रकार के 3694 पद हैं। इनमें से वर्तमान में 2760 पद कार्यरत हैं, वहीं 934 पद रिक्त हैं। जिसमें सर्वाधिक पद जवान के हैं। जवानों के कुल 2340 में से 604 पद रिक्त हैं। इसके बाद 159 यंत्र चालक के पद रिक्त हैं। 69 प्रमुख अग्निशामक, 66 दुय्यम अधिकारी, 17 वरिष्ठ केंद्र अधिकारी, 10 केंद्र अधिकारी के पद रिक्त है। उप प्रमुख अधिकारी तकनीकी का पद रिक्त है।
इसी तरह दमकल विभाग में कार्यशाला के 29 प्रकार के 125 पद हैं जिसमें से 62 पद रिक्त हैं और 66 पदों पर कर्मचारी कार्यरत हैं।
अग्निशमन दल में कार्यशाला महत्वपूर्ण होती है और इसका अप्रत्यक्ष संबंध होता हैं। दमकल विभाग में 25 प्रतिशत पद खाली पड़े होने पर चिंता व्यक्त की जा रही है कि दमकल आपात स्थिति में किस तरह अपनी जान हथेली पर रखकर कम कर्मचारी के बीच काम करने को मजबूर है।दमकल जवानों कें रिक्त पडे पद को तत्काल भरे जाने की मांग की जा रही है। राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर गुहार लगाई है कि दमकल विभाग में रिक्त पड़े पदों को तत्काल भरने का आदेश दे।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget