एक रुपये निवेश का रिटर्न अब 800 गुना : गौतम अडाणी

gautam adani
नई दिल्ली 
ढाई दशक पहले अडाणी एंटरप्राइजेज में किए गए निवेश पर अब रिटर्न 800 गुना हो चुका है। अडाणी समूह के प्रमुख गौतम अडाणी ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि इस दौरान उनका बुनियादी ढांचा समूह अब कई मंचों का एकीकृत मंच बन चुका है। जे.पी. मॉर्गन इंडिया शिखर सम्मेलन-भविष्य पर ध्यान को संबोधित करते हुए अडाणी ने कहा कि उनकी कंपनी बंदरगाह से लेकर हवाईअड्डे और ऊर्जा वितरण तक के क्षेत्रों में काम करती है। समूह के इस मॉडल ने शेयर बाजार की प्रमुख छह कंपनियों को खड़ा किया। इसने हजारों लोगों को नौकरी दी और शेयरधारकों के लिए अभूतपूर्व मूल्य का निर्माण किया। 
अडाणी ने कहा कि अडाणी एंटरप्राइजेज ने 1994 में अपना पहला आईपीओ (आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) पेश किया था और उस समय कंपनी किए गए एक रुपये के निवेश पर अब 800 गुना रिटर्न है। कॉलेज की पढ़ाई बीच में ही छोड़ देने वाले 58 वर्षीय अडाणी ने जिंसों के व्यापार से अपना कारोबार शुरू किया था। अब अडाणी समूह देश की सबसे बड़ी बंदरगाह प्रबंधन कंपनी है। साथ ही देश की सबसे बड़ी हवाईअड्डा परिचालक कंपनी बनने की ओर अग्रसर है। कंपनी गैस वितरण, नवीकरणीय ऊर्जा, खनन, रक्षा और कृषि जिंसों में भी कारोबार करती है। 

 भारत की बुनियाद मजबूत 
दिग्गज उद्योगपति गौतम अडाणी ने जीडीपी में गिरावट के बारे में संकीर्ण सोचों को खारिज करते हुए कहा कि देश की बुनियाद मजबूत है और भारत 2050 तक दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगा। उन्होंने यह भी कहा कि व्यापार अवसरों के मामले में देश दुनिया के अन्य समकक्ष देशों के मुकाबले बेहतर स्थिति में है। जेपी मोर्गन इंडिया समिट में अडाणी समूह के चेयरमैन ने कहा कि आत्म निर्भर भारत कार्यक्रम पासा पलटने वाला साबित होगा। उन्होंने कहा कि मैं बिना झिझक के कहना चाहूंगा कि मेरे विचार से अगले तीन दशकों में भारत दुनिया के लिए व्यापार के लिहाज से सबसे बड़ा अवसर होगा। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget