राम मंदिर मुद्दा उठाने पर भारत का पाक को करारा जवाब

paulomi tripathi
संयुक्त राष्ट्र
भारत ने संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि उसने अपने देश में और सीमा पार हिंसा की संस्कृति को बढ़ावा दिया है। साथ ही मानवाधिकारों पर उसके खेदजनक रेकॉर्ड और धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ भेदभावपूर्ण व्यवहार वैश्विक समुदाय के लिए लगातार चिंता का विषय बना हुआ है। इस दौरान भारत ने पाकिस्तान को अयोध्या में राम मंदिर पर करारा जवाब दिया। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन की काउंसलर पाउलोमी त्रिपाठी ने गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में 'शांति की संस्कृति' पर एक कार्यक्रम में कहा, 'दुर्भाग्य से, हमने पाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडल द्वारा संयुक्त राष्ट्र मंच का इस्तेमाल भारत के खिलाफ घृणा भाषण देने के लिए करने के एक और प्रयास को देखा। त्रिपाठी ने कहा, यह ऐसे समय में हो रहा है जब पाकिस्तान अपने देश में और सीमा पार हिंसा की संस्कृति को बढ़ावा दे रहा है।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के राजदूत मुनीर अकरम की जम्मू-कश्मीर, बाबरी मस्जिद विध्वंस और अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर की गई टिप्पणियों की कड़ी निंदा की। त्रिपाठी ने कहा, पाकिस्तान के मानवाधिकारों के खेदजनक रेकॉर्ड और धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ भेदभावपूर्ण व्यवहार वैश्विक समुदाय के लिए लगातार चिंता का विषय बना हुआ है। उन्होंने कहा, ईशनिंदा कानून का इस्तेमाल हिंदुओं, ईसाइयों और सिखों जैसे धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ उनके मानवाधिकारों के उल्लंघन के लिए किया जाता है। उन्होंने कहा कि पाक में महिलाओं और लड़कियों की हालत विशेष रूप से खराब है क्योंकि उनका अपहरण किया जाता है, बलात्कार किया जाता है और उनका धर्मांतरण कर जबरन शादी करा दी जाती है।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget