सेना ने लहराया परचम छह चोटियों पर किया कब्जा

Indian Army
नई दिल्ली
तमाम कोशिशों के बाद भी भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव की स्थिति कम नहीं हुई है। इस बीच भारतीय सेना ने पिछले तीन हफ्तों में भारतीय सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास छह नई चोटियों पर कब्जा कर लिया है।
सरकारी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, 29 अगस्त से सितंबर के दूसरे हफ्ते के बीच भारतीय सेना ने मगर हिल, गुरुंग हिल, रेचेन ला, रेजांग ला, मोखपारी और फिंगर चार के पास अपनी पकड़ मजबूत कर ली है।

ये ठिकाने अब तक खाली पड़े हुए थे
सूत्रों के मुताबिक, ये ठिकाने अब तक खाली पड़े हुए थे। यहां कोई नहीं था। भारतीय सेना की इस पर नजर थी। चीनी सेना के कब्जे में जाने से पहले भारतीय जवानों ने इस पर कब्जा कर लिया। इस तरह एलएसी के पास भारतीय सेना को बढ़त मिल गई है।

चीनी सैनिकों ने किए थे हवाई फायर
हालांकि, चीनी सेना भी यहां कब्जे की फिराक में थी। मगर उसे मुंह की खानी पड़ी। वहीं, चीनी सैनिकों ने हमारे जवानों को धमकाने के लिए पैंगॉन्ग त्सो झील के दक्षिणी किनारे से तीन बार हवाई फायर भी किए थे।

ऐक्‍शन के बाद चीन ने बढ़ाए सैनिक
सूत्रों ने साफ किया कि ब्‍लैक टॉप और हेलमेट टॉप एलएएसी के उस पार हैं। भारतीय जवान जहां पर हैं, वह इलाके एलएएसी के इस ओर आते हैं। भारत की इस कार्रवाई के बाद चीनी सेना ने 3,000 अतिरिक् त सैनिकों की तैनाती रेजांग ला और रेचिन ला के पास की हैं। इसमें पीएलए की इन् फैंट्री और आर्मर्ड यूनिट्स के जवान शामिल हैं। चीन सेना की मोल् दो यूनिट को पूरी तरह ऐक्टिवेट कर दिया गया है। पिछले कुछ हफ्तों में चीनी सेना ने सैनिकों की संख्या खासी बढ़ाई है। बीते कुछ हफ्तों से चीन के हिस्से में आने वाला मॉल्डो गैरिसन में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की गतिविधियां काफी बढ़ गई हैं। जब से सीमा पर चीन का अग्रेशन बढ़ा है,तब से राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे हालात पर नजर रखे हुए हैं।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget