नेपोटिज्म पर बोले जॉन

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से ही इंडस्ट्री में फैले नेपोटिज्म को लेकर कई खुलासे हो रहे हैं। हर कोई इस मुद्दे पर खुलकर बात कर रहा है। हाल ही में एक्टर जॉन अब्राहम ने नेपोटिज्म पर अपनी राय रखी। जॉन अब्राहम ने कड़ी मेहनत कर खुद के लिए इंडस्ट्री में जगह बनाई है। इनका कोई गॉडफादर नहीं था। अपनी मेहनत से जॉन आज इस मुकाम पर पहुंचे हैं।
जॉन अब्राहम ने इनसाइडर-आउटसाइडर की तुलना ट्विटर ट्रेंडिंग टमज़ से की। इंटरव्यू के दौरान जॉन अब्राहम ने कहा कि हर किसी का अपना सफर होता है। अपने चैलेंजेज होते हैं। और यहां इस इंडस्ट्री में केवल दो विकल्प हैं, या तो काम करो या फिर बैठकर बस जहर घोलते रहो। जॉन ने आगे कहा कि जब मैंने अपने मॉडलिंग केरियर की शुरुआत की थी तो मैं एक आउटसाइडर ही था।
जॉन का कहना है कि नए लोग जो इंडस्ट्री में आ रहे हैं और जो युवा यहां आने की प्लानिंग कर रहे हैं वे सभी खुद के लिए नया रास्ता ढूंढे। अगर कोई काम नहीं मिलता है तो खुद के लिए काम बनाएं। जॉन ने किसी की भी साइड न लेते हुए अपनी यह राय रखी है। इंडस्ट्री में आने वाले हर नौजवान के लिए उन्होंने काफी अच्छी बातें कही हैं।
बता दें कि जॉन अब्राहम को इंडस्ट्री में काम करते हुए 20 साल से ज्यादा हो चुके हैं। काम की बात करें तो वह संजय गुप्ता की क्राइम ड्रामा फिल्म मुंबई सागा पर काम कर रहे हैं। इसके अलावा 'जॉन सत्यमेव जयते 2' और 'अटैक' जैसी फिल्मों में भी काम करेंगे।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget