बच्चे का हेयर केयर रूटीन

Child
कुछ बच्चे पैदाइशी टकले क्यों होते हैं? 
कुछ बच्चों के बाल पैदाइशी कम उनके आनुवांशिकी के कारणों की वजह से होते हैं। आप और आपके साथी का डीएनए निर्धारित करता है कि आपके बच्चे के बाल, रंग और बनावट कैसा होगा। इसके अलावा, हार्मोन भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वहीं प्रेग्नेंसी के दौरान का खान पान भी इस बात को निर्धारित करता है कि आपके बच्चे के बाल कैसे होंगे। 

बाल अचानक तेजी से क्यों झड़ते हैं? 
दरअसल गर्भ में, छोटे भ्रूण के पूरे शरीर में बालों की एक पतली परत होती है, जिसे लानुगो कहा जाता है। ये महीन बाल नाजुक शिशु की त्वचा और उनके अंदर डूबे हुए एमनियोटिक द्रव के बीच एक अवरोधक बनाते हैं। लैनुगो 32 से 36 सप्ताह के गर्भ के बीच बाहर निकलना शुरू हो जाता है, लेकिन यह कभी-कभी शिशु के पैदा होने के बाद भी बरकरार रह सकता है और बाद में गिर सकता है। लगभग 4 से 6 महीने। इसके अलावा, हमारे शरीर गर्भावस्था के दौरान बहुत सारे हार्मोन स्रावित करते हैं जो मां और बच्चे के माध्यम से फैलता है। जन्म के बाद, ये हार्मोन धीरे-धीरे वापस ले लेते हैं और वापस सामान्य हो जाते हैं, जिससे शिशु के बाल अचानक गिरने लगते हैं। ऐसे में आप शिशु के हेयर केयर रूटीन का खास ध्यान रख कर उसके बालों को हेल्दी बना सकते हैं। 
शिशु के हेयर केयर रूटीन में करें ये बदलाव 

रेगुलर हेयर कटिंग करवाएं 
बच्चों के लिए भी हेयर कटिंग बेहद जरूरी है। दरअसल कुछ बच्चों के बाल जन्म के बाद से बहुत गंदे निकल कर आते हैं। ऐसे बाल टूटे कमजोर और बदरंग नजर आते हैं। ऐसे में बच्चों के बाल लगातार कटवाते रहें, जिससे नए और बेहतर बाल आ सके। 

डेली ऑइलिंग 
स्वस्थ बाल विकास सुनिश्चित करने के लिए ऑइलिंग पहला कदम है। अधिकांश शिशु बड़े होने के साथ सूखी खोपड़ी, रूसी और अजीब से स्किन वाले हो जाते हैं। ऐसे में जरूरी है कि, उम्र बढ़ने के साथ उनके बालों की रोजाना तेल से मालिश करें। 

हेयर केयर उत्पादों की मदद लें 
ऐसे उत्पादों का चयन करना हमेशा उचित होता है जिनमें प्राकृतिक तत्व होते हैं और जिन्हें शिशु के बालों के लिए सुरक्षित और कोमल माना जाता है। इसके लिए नेचुरल शैंपू का चयन करें। बच्चे के लिए हमेशा ऐसे उत्पाद का उपयोग करें जो सौम्य, सुरक्षित और वैज्ञानिक रूप से शोधित हो और खनिज तेल, सिंथेटिक रंग और खराब तत्वों से मुक्त हो। 

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget