सीमा पर तनाव कम करने की कोशिशें तेज

Military Trucks

नई दिल्ली

भारत और चीन सीमा पर तनाव बना हुआ है। चीन की ओर से कई बार भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की घटनाओं को अंजाम दिया गया है। इस बीच विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि भारत-चीन सीमा पर अभूतपूर्व हालात बने हुए हैं। बातचीत करके ही हल निकालना होगा। एलएसी पर तनाव को लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि भारत-चीन सीमा पर अभूतपूर्व हालात बने हुए हैं। दोनों देशों को बातचीत करनी होगी और हल निकालना होगा। दरअसल, हाल ही में विदेश मंत्री ने चीन के विदेश मंत्री से रूस में मुलाकात की थी। जिसके बाद जयशंकर का यह पहला बयान है।
10 सितंबर को मॉस्को में दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच हुई बातचीत और मंगलवार को मिलिटरी कमांडरों की बैठक के बाद उम्मीद की जा रही है कि सीमित डिसइंगेजमेंट की प्रक्रिया शुरू होगी और दोनों पक्ष एलएसी पर यथास्थिति को सुनिश्चित करने की कोशिश करेंगे। हालांकि, धोखेबाजी की जो चीन की फितरत है, उस वजह से उस पर यकीन करना मुश्किल है। यही वजह है कि भारत अब पूरी तरह सतर्क है ताकि ड्रैगन किसी चालबाजी में कामयाब न हो।
सरकार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक अब सार्थक डिसइंगेजमेंट चीनी नेतृत्व के राजनीतिक इरादों पर निर्भर करेगा। दोनों देशों की तरफ से जारी संयुक्त बयान में तनाव कम करने और एलएसी पर विवाद वाली जगहों पर किसी भी पक्ष की तरफ से उकसावे की कार्रवाई न करने की बात कही गई है। हालांकि, भारत किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।
दोनों देश इस बात पर सहमत हुए हैं कि पूर्वी लद्दाख सेक्टर में अब वे और ज्यादा सैनिकों को अग्रिम मोर्चे पर नहीं भेजेंगे। इसके अलावा वे अपने सैनिकों को एक दूसरे से 'सुरक्षित' दूरी पर रखेंगे और रियल-टाइम कम्यूनिकेशन को फिर से खोलेंगे। इससे एलएसी के नजदीक चीन की तरफ से किए जा रहे अंधाधुंध निर्माण पर रोक लगने की उम्मीद है ताकि डिसइंगेजमेंट की कवायद आगे बढ़े।
चीन की धूर्तता को देखते हुए पूरी तरह सतर्क भारत लगातार अप्रैल जैसी स्थिति की बहाली पर जोर दे रहा है लेकिन अब स्थितियां थोड़ी और जटिल हो गई हैं। जब से भारतीय सुरक्षा बलों ने पैंगोंग सो लेक के दक्षिणी किनारे पर स्थित रणनीतिक तौर पर महत्वपूर्ण चोटियों को नियंत्रण में लिया है और उत्तरी किनारे पर अपनी तैनाती को मजबूत किया है, तब से डिसइंगेजमेंट की प्रक्रिया थोड़ी और उलझ गई है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget