बच्चों के लिये खिलौने बहुत जरूरी

Children
बच्चों के लिए उनके खिलौने कितने ज़रूरी हैं यह तो हम सबको पता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि बच्चों की फिजिकल और मेंटल ग्रोथ में भी इनका बहुत बड़ा रोल है। जी हां, यह बात सच है। बच्चों के मन और  कल्पना शक्ति परखिलौने गहरी छाप छोड़तेहैं। यही वजह है कि बच्चोंके लिए खिलौनों का चुनाव करते समय हमें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। आज के इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स बताने जा रहे  हैं, जो खिलौने चुनते समयआपके बड़े काम आएंगी। तोचलिए शरू करते हैं।

सेफ्टी और लर्निंग का जोड़
बच्चों के लिए खिलौनों का चुनाव करते समय सेफ्टी का विशेष ध्यान रखें ताकि इनसे खेलते समय बच्चे चोटिल ना हो जाएं। खिलौनों का चुनाव करते समय यह भी ध्यान रखें कि जो भी खिलौने आप बच्चों को लाकर दें,  उनसे वह कुछ ना कुछ नया सीखनेकी कोशिश करें। उदाहरण के तौर पर, आप उन्हें हवाई-जहाज, शिप या कार आदि खिलौने लाकर दे सकते हैं। इन्हें देख उनके मन में जिज्ञासा उत्पन्न ज़रूर होगी और वह आपसे इनके बारे में अधिक जानना चाहेंगे।

कल्पना शक्ति बढ़ाएं
बच्चों के लिए ऐसे खिलौने भी चुनें जिनसे कल्पना शक्ति का विकास हो। इसके लिए आप उन्हें ड्राइंग बुक्स लाकर दे सकते हैं, जिसमें वह अपनी कल्पना के हिसाब रंग भरेंगे। एक तरह से यह उनकी मेंटल ग्रोथ के बेहद  फायदेमंदहो सकता है। साथ ही इससे आपको यह समझने में भी आसानी होगी कि बच्चों का इंटरेस्ट किस चीज़ में ज्यादा है। 

साउंड, रंग और टेक्सचर
 बच्चों के लिए ऐसे खिलौनों का भी चुनाव करें जिनमें अलग- अलग  साउंड्स, रोशनी, रंगों या टेक्सचर का प्रयोग किया गयाहो, ऐसे बहुत से खिलौने बाज़ार में उपलब्ध हैं। खिलौनों से बच्चों के कल्पना शक्ति को बल मिलता है साथ ही वह अपने दिमाग के अनुसार इनसे खेलना सीखते हैं।  यह बच्चों को एंगेज रखने के साथ ही मैंटल ग्रोथ में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ावा दें
मैंटल ग्रोथ के साथ ही आप बच्चों को कुछ ऐसे खिलौने भी लाकर दे सकते हैं जिनसे उनकी फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ावा मिले। उदहारण के तौर पर आप बच्चों को ब्लॉक्स लाकर दे सकते हैं जिनकी मदद से वह  बिल्डिंग, ट्रेन आदि बना सकते हैं। यह गेम खेलने के लिए बच्चों को अपनी जगह से उठाना पड़ेगा, जिससे उनकी फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ावा मिलेगा।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget