विकास का नया मॉडल बनेगा बुंदेलखंड: योग

लखनऊ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने लखनऊ स्थित सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चित्रकूट धाम मण्डल के विकास कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने मण्डल के सांसद और विधायकों से संवाद भी किया। सीएम योगी ने कहा कि बुंदेलखंड को जैविक खेती का रोल मॉडल बनाया जाए। समीक्षा बैठक में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डिफेंस कॉरिडोर और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के बाद चित्रकूट विकास का प्रवेश द्वार होगा। उन्होंने कहा कि हम बुंदेलखंड को जैविक खेती का हब बनाना चाहते हैं। इससे जहरीले रासायनिक खादों से मुक्ति तो मिलेगी ही, उत्पाद की कीमत अधिक मिलने से किसान भी खुशहाल होंगें। मुख्यमंत्री ने मण्डल के सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जनप्रतिनिधियों द्वारा दिए गए प्रस्तावों पर समयबद्ध ढंग से कार्रवाई की जाए और उनके द्वारा प्रस्तावित कार्यों को पूरा करते हुए इनकी निधियों का पूरा सदुपयोग किया जाए। सीएम ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को कहा कि किसानों को जैविक और जीरो बजट कृषि के प्रति जागरूक करें। इससे बुंदेलखंड की सबसे बड़ी समस्या अन्ना प्रथा से निजात भी मिलेगी और किसान अच्छे नस्ल के गोवंश पालने के लिए प्रेरित होंगे। अगर हम ऐसा कर सके तो पूरे देश में बुंदेलखंड की नई पहचान मिलेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार बुंदेलखंड के हर घर के साथ घर खेत तक शुद्ध पानी पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है। इस दिशा में कार्यवाही तेजी से प्रचलित है। केन-बेतवा लिंक परियोजना के अमल में आने पर हम हर खेत तक पानी पहुंचाने में सफल होंगें।

जिला चिकित्सालय के उच्चीकरण के निर्देश
मुख्यमंत्री ने हमीरपुर और महोबा में जिला चिकित्सालय को उच्चीकृत किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है इसके लिए जनपदीय माइनिंग कोष का इस्तेमाल करें, जो राशि कम पड़ेगी, शासन से उपलब्ध कराई जायेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विकास कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि योजनाओं को समय से पूरा करने से लागत कम आती है और इन योजनाओं का लाभ जनता को समय से प्राप्त होता है।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget