सटोरियों पर एसीयू टीम की नजर

Stadium
नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई (एसीयू) खाली स्टेडियमों में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान सोशल मीडिया के जरिए होने वाली भ्रष्ट पेशकश को रोकने पर ध्यान देगी और इससे पहले वो खिलाड़ियों को 'वीडियो काउंसलिंग' के जरिए शिक्षित करेगी। अजित सिंह की अगुवाई में बीसीसीआई की आठ सदस्यीय टीम मंगलवार को दुबई पहुंची और अभी वो आइसोलेशन में है। सिंह पहले ही कह चुके हैं कि 19 सितंबर से शुरू होने वाला आईपीएल पहले के टूर्नामेंट्स की तुलना में अधिक सुरक्षित है, क्योंकि यह बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट में खेला जाएगा। स्टेडियम में दर्शक नहीं होंगे और फैंस को टीम होटल में आने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा, 'हमने खेल इंटीग्रिटी एजेंसियों को भी काम पर रखा है। हम खिलाड़ियों की गतिविधियों पर निगरानी रखने के लिये उनकी मदद लेंगे कि वहां कोई संदिग्ध है या नहीं'? खिलाड़ियों को बताया जाएगा कि सट्टेबाज सोशल मीडिया या फोन (व्हाट्सऐप) के जरिए उनसे संपर्क बनाने की कोशिश कर सकते है क्योंकि बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट में इन दोनों के जरिए ही वे खिलाड़ियों तक पहुंच बना सकते हैं'।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget