दस कोरोना मरीज मिलने पर इमारत होगी सील

कोविड की रोकथाम के लिए बीएमसी का बड़ा फैसला


मुंबई

मुंबई में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बीएमसी ने किसी इमारत में 10 या उससे ज्यादा कोविड-19 के मरीज मिलने पर उसे सील करने का फैसला किया है। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के स्वास्थ विभाग ने मंगलवार को संशोधित नियम जारी किए। एक बैठक में नगर निकाय प्रमुख इकबाल सिंह चहल की ओर से कोरोना की स्थिति की समीक्षा के बाद यह फैसला लिया गया। इससे पहले बीएमसी ने कहा था कि एक सोसायटी या इमारत में कोविड-19 के मामले सामने आने पर केवल उस मंजिल को ही सील किया जाएगा और पूरी इमारत को सील किए जाने की जरूरत नहीं है। बीएमसी के नए नियमों के अनुसार अब इमारत के किसी मंजिल पर दो से अधिक संक्रमित मरीज पाए जाएंगे, तो इमारत सील की जाएगी। इसी तरह किसी इमारत में जो कि बड़ी होगी, उसमें पूरी इमारत में 10 मरीज पाए जाने पर इमारत को सील किया जाएगा। शुरुआत में इमारत में एक भी मरीज पाए जाने पर इमारत सील कर दी जाती थी, जिसमें अब बदलाव किया गया है।
उसने कहा कि संबंधित सहायक नगरपालिका आयुक्त या चिकित्सा स्वास्थ अधिकारी कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरी इमारत को सील करने का फैसला कर सकते हैं, अगर किसी विशेष मंजिल या विंग का सील किया जाना संक्रमण से निपटने के लिए पर्याप्त ना हो। मुंबई में मंगलवार को कोरोना के 1,585 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,73,534 हो गई। वहीं 49 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 8,227 हो गई थी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार मंगलवार तक कुल 8,763 इमारतें सील की गई थीं। शुरुआत में किसी इमारत में कोरोना संक्रमित पाए जाने पर पूरी इमारत सील कर दी जाती थी। इमारत सील होने के बाद रहिवासियों की पूरी देखभाल की जिम्मेदारी मनपा की थी, जिसे अब सोसायटी पर डाल दिया गया है। इमारत में रहने वाले रहिवासियों को जरूरत की चीजें उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी सोसायटी पर डाल दी गई है। इसी तरह मनपा के नियमों का भी पालन नहीं होता होगा, तो उसकी भी जिम्मेदारी सोसायटी के सदस्यों को होगी। दक्षिण मुंबई में गिरगांव, मलबार हिल, नेपीयेंसी रोड, पेडर रोड, ताड़देव में कोरोना मरीजों की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी हुई है।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget