विधानसभा चुनाव में युति का फैसला गलत: फड़नवीस

भाजपा अकेले लड़ती तो जीतती 150 से अधिक सीटे


मुंबई

विधानसभा में विरोधी पक्ष नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि 2019 के विधानसभा चुनाव में शिवसेना के साथ युति करने का फैसला गलत था, अगर युति नहीं होती तो भाजपा अपने दम पर 150 से अधिक सीटें जीत सकती थी। शुक्रवार को दादर स्थित मुंबई भाजपा कार्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में भाजपा द्वारा शुरू किए गए सेवा सप्ताह का कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमें वर्चुअल के माध्यम से भाजपा प्रदेश के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही।
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता वरिष्ठ पत्रकार भाऊ तोरसेकर द्वारा लिखी गई पुस्तक और उसमें की गई भविष्यवाणी का जिक्र करते हुए फड़नवीस ने कहा कि भाऊ तोरसेकर ने 2013 में कहा था कि अगर भाजपा ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करती है, तो भाजपा को 272 सीटों का पूर्ण बहुमत मिलेगा, जो लोगों को असंभव लग रहा था, लेकिन उनकी भविष्यवाणी सच हो गई। इसी तरह उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में 300 सीटें जीतने की भविष्यवाणी की थी, उसके बाद उन्होंने महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के दौरान भी एक पुस्तक लिखकर भाजपा को एक विकल्प दिया था। भाजपा अगर अकेले चुनाव लड़ती है तो 150 और गठबंधन करती है तो 200 से अधिक सीटें जीतेगी। उस समय हमने गठबंधन का विकल्प चुना। अगर उस विकल्प को नहीं चुना होता तो भाऊ तोरसेकर की तीसरी भविष्यवाणी सच हो जाती। हमने मोदीजी के नेतृत्व में महाराष्ट्र में 150 से अधिक सीट जीत सकते थे, लेकिन शिवसेना के साथ गठबंधन करके भाजपा से गलती हुई है। केंद्र की पिछली यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान देश की अर्थव्यवस्था जमीन में चली गई थी, व्यक्तिगत तौर पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह एक अच्छे और विद्वान व्यक्ति है, लेकिन सरकार पर उनका नियंत्रण नहीं था, क्योंकि उनकी सरकार में प्रत्येक मंत्री स्वयं को प्रधानमंत्री समझता था। फड़नवीस ने कहा कि साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आने के बाद देश में भ्रष्टाचार कम हो गया। पीएम मोदी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई शुरू की और न खाने और न खाने देने के रास्ते पर चलने के लिए लोगों को मजबूर कर दिया। पूर्व सीएम ने कहा कि दिल्ली में पीएम मोदी ने स्थापित भ्रष्ट व्यवस्था को चुनौती दी और उसे तोड़ दिया। उन्होंने न केवल व्यवस्था को तोड़ा, बल्कि उन्होंने एक नई प्रणाली भी बनाई। विपक्ष के नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली केंद्र में सरकार आने के बाद आज की ऐसी स्थिति हो गई है कि दिल्ली के मंत्रालयों में भ्रष्टाचार समाप्त हो चुका है। पीएम मोदी के कार्यों की प्रशंसा करते हुए फड़नवीस ने कहा कि पीएम मोदी स्वामी विवेकानंद के विचारों से प्रेरित हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का व्यक्तित्व देखे तो उनमें स्वामी विवेकानंद दिखाई पड़ते है। स्वामी विवेकानंद की तरह पीएम मोदी भी एक योद्धा और सन्यासी के रूप में अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में भाजपा द्वारा आयोजित सेवा सप्ताह कार्यक्रम में विधानपरिषद में विरोधी पक्ष नेता प्रवीण दरेकर,भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री वी.सतीश, मुंबई भाजपा अध्यक्ष और विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा, पूर्व मंत्री विनोद तावड़े,भाजपा विधायक अतुल भातखलकर, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश ठाकुर, वहीं वर्चुअल के माध्यम से भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल सहित बड़ी संख्या में नेता और पदाधिकारी कार्यक्रम में शामिल हुए।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget