पवार की अगुवाई में दिल्ली जाएगा प्रतिनिधिमंडल

प्याज निर्यात पर पाबंदी हटाने का मामला

Sharad Pawar

मुंबई

केंद्र सरकार के प्याज निर्यात पर पाबंदी लगाने के फैसले को लेकर राज्य मंत्रिमंडल ने चिंता जताई है। प्याज निर्यात पर रोक हटाने की मांग को लेकर प्रदेश सरकार का प्रतिनिधिमंडल केंद्र सरकार के पास जाएगा। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व राकांपा अध्यक्ष शरद पवार करेंगे। बुधवार को मंत्रालय में प्रदेश के कृषि मंत्री दादाजी भुसे ने यह जानकारी दी। भुसे ने कहा कि राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में केंद्र सरकार के प्याज निर्यात पर रोक लगाने के फैसले पर चिंता व्यक्त की गई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार समेत अन्य मंत्रियों ने प्याज उत्पादक किसानों को होने वाले नुकसान के बारे में चर्चा की। भुसे ने कहा कि प्याज निर्यात पर रोक हटाने की मांग को लेकर राज्य सरकार का प्रतिनिधिमंडल केंद्र सरकार से मुलाकात करेगा। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व राकांपा अध्यक्ष पवार करेंगे। प्रतिनिधिमंडल में उपमुख्यमंत्री समेत करीब पांच मंत्री जाएंगे।
दूसरी तरफ विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर प्याज निर्यात पर रोक हटाने की मांग की है। फड़नवीस ने कहा कि प्याज निर्यात पर रोक लगाने के केंद्र सरकार के फैसले से महाराष्ट्र के किसान आहत एवं दुखी हैं। वहीं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने भी प्याज निर्यात पर प्रतिबंध हटाने की मांग की है। कोल्हापुर में पाटील ने कहा कि यदि केंद्र सरकार प्याज निर्यात पर रोक नहीं हटाती है तो किसानों को होने वाले नुकसान की भरपाई मिलनी चाहिए।
प्याज कि बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए निर्यात पर केंद्र सरकार द्वारा पाबंदी के खिलाफ कांग्रेस ने बुधवार को जगह-जगह प्रदर्शन किया। पुणे और सोलापुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्याज के निर्यात पर पाबंदी के केंद्र के फैसले को वापस लेने की मांग करते हुए बुधवार को प्रदर्शन किया। पुणे में प्रदर्शन के दौरान जिला कार्यालय के बाहर पार्टी कार्यकर्ता प्याज का माला गले में डाले हुए नजर आये।
इधर राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता और महाराष्ट्र के उप-मुख्यमंत्री अजीत पवार ने प्याज निर्यात पर पाबंदी को लेकर केंद्र सरकार पर बुधवार को हमला बोला और उसे किसान विरोधी सरकार करार दिया। पवार ने केंद्र के इस निर्णय को गलत बताया। उन्होंने कहा कि पहले से कोविड-19 की मार झेल रहे किसानों को इस निर्णय से केंद्र सरकार और रसातल में भेज रही है। प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री बालासाहब थोराट ने कहा कि निर्यात पर प्रतिबंध के चलते प्याज के दाम गिर गए हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी इस अन्याय से किसानों को बाहर निकालने के लिए लड़ाई लड़ेगी। घरेलू बाजार में प्याज के दाम कम करने और उपलब्धता बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने सोमवार को हर किस्म के प्याज के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी थी।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget