डिप्टी आरटीओ कार्यालय में विजलेंस का छापा

लखनऊ
सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) और जिला पुलिस की संयुक्त टीम ने गुरुवार को शाहजहांपुर के उप संभागीय परिवहन कार्यालय में छापा मारकर 15 से अधिक लोगों को पकड़ा और नकद चार लाख रुपये बराबद किए। विजिलेंस को इस कार्यालय में भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थीं। विजिलेंस के बरेली सेक्टर और जिला पुलिस की टीम ने कार्यालय से कंप्यूटर और अन्य उपकरण भी बरामद किए हैं। पकड़े गए लोगों के दलाली के धंधे में शामिल होने की आशंका है।
बरामद रकम के संबंध में भी जानकारी मिली कि इसे घूस के तौर पर देने के लिए लाया गया था। इस मामले में विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों की भी संलिप्तता होने की संभावना है। जांच में तथ्य सामने आने पर उनके विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। गृह विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने भ्रष्टाचार के मामलों में सतर्कता विभाग को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उनके इस निर्देश पर ही शाहजहांपुर में डिप्टी आरटीओ कार्यालय में छापा मारा गया। आरटीओ कार्यालयों में ड्राइविंग लाइसेंस और वाहनों के परमिट और फिटनेस आदि दिलाने के नाम पर दलालों का रैकेट सक्रिय है। दलालों की कर्मचारियों व अधिकारियों से ऐसी मिलीभगत होती है कि उनके बगैर वहां काम ही नहीं होता। इस संबंध में शासन को लगातार शिकायतें मिल रही थीं। इससे पहले डग्गामार वाहनों और ओवरलोडिंग के खेल में आरटीओ अफसरों की भूमिका सामने आई थी।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget