फर्नीचर को दीमक से बचाएं

Termite
कहते हैं कि दीमक को हटाना बहुत मुश्किल है और घर की नींव को भी दीमक खोखला कर सकती है। दीमक अगर कहीं लग जाती है तो उसे हटाने के लिए एंटी-टरमाइट स्प्रे से लेकर पेस्ट कंट्रोल तक बहुत कुछ करवाना पड़ता है। पर उसके बाद भी कई बार इससे आसानी से निजात नहीं मिलती। ऐसे में सबसे सुरक्षित तरीका यही है कि दीमक को घर में घुसने और पनपने से ही रोका जाए। सबसे ज्यादा जरूरी है कि घर का फर्नीचर सुरक्षित रखा जाए और साथ ही साथ दीवारों को भी दीमक से बचाया जाए। 

 मॉइश्चर का करें इलाज : दीमक हमेशा मॉइश्चर से खिंचती हैं। अगर फर्नीचर ऐसी जगह है जहां मॉइश्चर है या फिर खिड़की-दरवाज़ों या दीवारों के पास मॉइश्चर इकठ्ठा है तो ऐसा हो सकता है कि दीमक लगने लगे। घर में मॉइश्चर से आमतौर पर फंगस भी होती है जो स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानियां खड़ी कर सकता है। ऐसे में ये जरूरी है कि इसे मॉइश्चर से दूर रखा जाए। 

सूरज की धूप : फर्नीचर को आप घर से बाहर थोड़ी देर धूप में भी रख सकते हैं। फर्नीचर में अगर मॉइश्चर होगा तो वो धूप से भी कम होगा। सूरज की धूप से फर्नीचर पूरी तरह से सूख सकता है। दीमक हमेशा बहुत गर्मी से दूर रहती हैं और अगर फर्नीचर के अंदर दीमक है तो सूरज की गर्मी उसे खत्म कर देगी। 

दीमक का स्प्रे या फिर पेस्ट कंट्रोल : ये उस तरह की दीमक के लिए अच्छा है जो मिट्टी जैसे स्ट्रक्चर बनाकर अपना घर बनाती हैं। अगर दीमक कम है तो वो इस तरह से चली जाएगी। अगर दीमक नहीं भी है तो भी ये बेहतर होगा कि आप एंटी-टरमाइट स्प्रे को कुछ महीनों में एक बार अपने घर की दीवारों पर और लकड़ी के सामान पर छिड़क दें। अगर दीमक बहुत ज्यादा हो गया है तो आपके लिए बेहतर यही होगा कि आप पेस्ट कंट्रोल करवाएं। पेस्ट कंट्रोल करवाने के बाद आप अपने घर के सामान को और दीवारों को भी थोड़ा सुरक्षित कर सकते हैं। 

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget