बिना कोरोना जांच होगा घायलों का इलाज

चंदौली

 जनपद में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बीच महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं उत्तर प्रदेश ने कोविड-19 परीक्षण को लेकर अपने दिशा निर्देश में बदलाव किया है। इसके मुताबिक अब कोरोना जांच के बगैर ही लोगों को आपातकालीन चिकित्सा सेवा मिल सकेगी। मारपीट या दुर्घटना में घायल व्यक्तियों सहित प्रसव पीड़ा से परेशान गर्भवती का इलाज हो सकेगा। हालांकि चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी इनके इलाज में विशेष सावधानी बरतेंगे। ऐसे व्यक्तियों को कोरोना की जांच के लिए सैंपल देना होगा। दरअसल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बिना डॉक्टर के पर्चे के भी ऑन-डिमांड परीक्षण कराने की व्यवस्था शुरू की है। ऐसे व्यक्ति जो परीक्षण करवाना चाहते हैं या जो यात्रा कर रहे हैं या किसी रोग के उपचार के लिए किसी चिकित्सालय में भर्ती होने से पूर्व जांच कराना चाहते हैं तो वह परीक्षण करवा सकते हैं। कंटेनमेंट जोन में काम कर रहे कोरोना वरियर्स को वरीयता मिलेगी। साथ ही कंटेनमेंट जोन के सभी संभावितों की भी जांच होगी।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget