एसबीआई ने कर्मचारियों के लिए तैयार किया वीआरएस

मुंबई
 देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने मानव संसाधान को अनुकूल करने और कॉस्ट कटिंग के लिए वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्कीम (वीआरएस) का ऐलान किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, एसबीआई के इस बीआरएस स्कीम के तहत करीब 30,190 कर्मचारियों योग्य होंगे। एसबीआई ने इस स्कीम का नाम 'Second Innings Tap VRS-2020’ रखा है, जिसके तहत कर्मचारियों को रिटायरमेंट का विकल्प दिया जाएगा। बैंक ने कहा कि इसके लिए वो कर्मचारी आवेदन कर सकेंगे जो अपने करियर या परफॉर्मेंस के पीक पर पहुंच चुके हैं, उन्हें नौकरी करने में कोई व्यक्ति परेशानी है या बैंक के अलावा किसी और प्रोफेशन में मौके तलाश रहे हैं।
इस स्कीम के तहत ऐलान किए जाने वाले कट ऑफ डेट तक 25 साल की सर्विस पूरा करने वाले या जिनकी उम्र 55 साल से ज्यादा है, वो इस स्कीम के तहत रिटायरमेंट ले सकते हैं। इस स्कीम को 1 दिसंबर 2020 को खोलेगी और फरवरी अंत तक के लिए यह खुला रहेगा। इसी अवधि में वीआरएस के आवेदन मंजूर किए जाएंगे।
बैंक ने कहा, 'जो स्टाफ मेंबर बीआरएस के लिए आवेदन करेगा, उन्हें बचे हुए सर्विस की अवधि तक सैलरी की 50 फीसदी दी जाएगी। यह पेंशन की तारीख तक के लिए होगा। साथ ही यह अंतिम सैलरी के 18 महीने तक के लिए ही होगा।' इसके अलावा फइझ लेने वाले कर्मचारियों को ग्रैच्युटी, पेंशन, प्रोविडेंट फंड और मेडिकल की सुविधाएं दी जाएंगी। एसबीआई के वीआरएस स्कीम के तहत रिटायर होने वाले स्टाफ दो साल की कूलिंग पीरियड के बाद दोबारा बैंक में नौकरी के लिए आवेदन करने योग्य होगा।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget