Dhoni
नई दिल्ली
चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पहले मैच में गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस के खिलाफ पांच विकेट की जीत में उनकी टीम का अनुभव अहम साबित हुआ। अंबाती रायुडु और फाफ डु प्लेसिस ने तीसरे विकेट के लिए 115 रन की साझेदारी की जबकि पीयूष चावला ने शानदार गेंदबाजी की और उन्हें सैम कुरैन, दीपक चाहर और लुंगी एंगिडी जैसे गेंदबाजों का अच्छा साथ मिला। धोनी ने जीत के बाद कहा कि अनुभव काम कर गया, सभी इस बारे में बात कर रहे हैं। काफी मैच खेलने के बाद ही आपको अनुभव हासिल होता है। 300 एकदिवसीय मैच खेलना किसी भी क्रिकेटर का सपना होता है और जब आप मैदान पर टीम उतारते हो तो आपको युवा और अनुभवी खिलाड़ियों के अच्छे मिश्रण की जरूरत होती है।
उन्होंने कहा कि आपको अनुभवी खिलाड़ियों की जरूरत होती है कि वे मैदान पर युवा खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करें। युवा खिलाड़ियों को आईपीएल में सीनियर खिलाड़ियों के साथ 60-70 दिन बिताने का मौका मिलता है। धोनी ने कहा कि उनकी टीम को अभी कुछ विभागों में सुधार करने की जरूरत है। माही ने कहा कि काफी सकारात्मक पक्ष रहे लेकिन कुछ ऐसे विभाग हैं जिन पर काम करने की जरूरत है। विशेषकर टाइमिंग को लेकर। बाद में खेलते हुए ओस पड़ने त क  थोड़ा मूवमेंट रहता था। ऐसे में अगर आपके पास विकेट बचे हों तो आप फायदे में रहते हो।

सैम ने माही को बताया 'जीनियस'
माही की क्रिकेटिया ब्रेन की पूरी दुनिया कायल है और जो भी उनके साथ खेलता है उनकी कप्तानी की तारीफ करता है। अब सैम कुर्रन का नाम भी इस लिस्ट में आ गया है जो माही के द्वारा मैच के दौरान लिए गए फैसलों के कायल हो गए हैं। सैम कुर्रन ने कहा माही ने मुझे मुंबई इंडियंस के खिलाफ बल्लेबाजी के लिए खुद से ऊपर भेजा। उन्होंने कहा कि मैं इस 'जीनियस' कप्तान के इस फैसले से हैरान था। सैम ने कहा कि मैं माही के फैसले से काफी हैरान था कि उन्होंने मुझे खुद से पहले बल्लेबाजी के लिए भेजा। वो जीनियस हैं और उन्होंने कुछ सोचकर ही ये फैसला किया होगा। उन्होंने कहा कि हमने बल्लेबाजी के दौरान 18वें ओवर को निशाना बनाया और मैं ये सोचकर गया था कि मैं या तो छक्का लगाऊंगा या फिर आउट हो जाउंगा। सैम ने अपनी पारी में दो छक्के लगाए थे और टीम को जीत के करीब ला दिया था।

महेंद्र सिह धोनी ने रचा इतिहास
आईपीएल 2020 के पहले मैच में मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर 162 रन बनाए। इस मैच में सीएसके की ओर से कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। धोनी ने आईपीएल केरियर में बतौर 100 कैच लेने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। आईपीएल में विकेटकीपर के द्वारा 100 कैच या उससे ज्यादा कैच लेने वाले धोनी दूसरे विकेटकीपर बन गए हैं। आईपीएल में बतौर विकेटकीपर सबसे ज्यादा कैच लेने का रिकॉर्ड दिनेश कार्तिक के नाम है। कार्तिक ने आईपीएल में बतौर विकेटकीपर 109 कैच लिए हैं।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget