भाजपा के 30 विधायकों के कटेंगे टिकट!

पटना
भाजपा के मंडल अध्यक्षों ने राज्य के 30 पार्टी विधायकों का टिकट काटने की सिफारिश कर पार्टी नेतृत्व के सामने एक नई चुनौती खड़ी कर दी है। मंडल अध्यक्षों ने दो टूक कहा है कि ये तीस विधायक अगर फिर से उम्मीदवार बनाए गए तो उनकी जीत मुश्किल होगी, इतना ही नहीं, पार्टी की मंडल इकाई ने उन्हें भी टिकट न देने की सलाह दी है जो बीते चुनाव में 25 से 30 हजार से अधिक मतों से चुनाव हार गए थे।
दरअसल, एनडीए में अभी सीटों की संख्या का औपचारिक ऐलान भले ही नहीं हुआ है लेकिन अंदरखाने में उम्मीदवार भी तय हो रहे हैं। खासकर वैसी सीटें जहां पर एनडीए में कोई विवाद नहीं है, उन सीटों पर भाजपा में भी अधिकतर नेताओं को क्षेत्र में जाकर काम करने को कहा गया है। इसी क्रम में हाल ही में पार्टी ने मंडल अध्यक्षों से उम्मीदवारों के मसले पर राय मांगी। सभी मंडल अध्यक्षों ने उम्मीदवार चयन पर अपनी राय दी है। बिहार भाजपा के 45 संगठनात्मक जिले के अधीन लगभग 11 सौ मंडल अध्यक्ष हैं। पार्टी सूत्रों के अनुसार भाजपा के मौजूदा 53 में से 30 से अधिक विधायकों के खिलाफ मंडल अध्यक्षों ने अपनी राय दी है। दो टूक कहा है कि अगर दल को पक्की जीत सुनिश्चित करनी है तो चेहरा बदला जाना जरूरी है।
हालांकि मंडल अध्यक्षों ने यह भी कहा है कि मतदाताओं में दल के प्रति निष्ठा बरकरार है। पार्टी की जीत पक्की है लेकिन उम्मीदवारों को लेकर लोगों की नाराजगी है। यह नाराजगी चुनाव में भारी न पड़ जाए, इसके लिए यह जरूरी है कि उम्मीदवार बदलकर नए चेहरे को मौका दिया जाए।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget