बीमा क्लेम के लिए कारोबारी ने युवक को मार डाला

हरियाणा 

हरियाणा के हांसी में एक कारोबारी ने 1.60 करोड़ रुपए का बीमा क्लेम लेने के लिए खुद की हत्या की साजिश रची थी। खुद को मरा घोषित करने के लिए उसने शहर के ही एक युवक को पहले कार में शराब पिलाई, फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने अपनी कार को आग लगा दी। यह खुलासा आरोपी राममेहर ने पुलिस पूछताछ में किया है। राममेहर को छत्तीसगढ़ पुलिस ने बिलासपुर से गिरफ्तार किया था। छह अक्टूबर की रात को हांसी की बरवाला रोड पर पुलिस को एक कार में किसी व्यक्ति के जिंदा जलने की सूचना मिली थी। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो कार जल रही थी और उसमें ड्राइवर सीट के बगल में बैठा व्यक्ति कंकाल बन चुका था। कार की नंबर प्लेट के आधार पर जले व्यक्ति की शिनाख्त डाटा गांव के राममेहर के रूप में हुई। राममेहर की बरवाला में डिस्पोजल कप-प्लेट की फैक्ट्री है। एसपी लोकेंद्र सिंह ने बताया कि कार में जला शव डाटा के युवक रमलू का था। आरोपी राममेहर उसे 6 अक्टूबर की शाम को गांव से लाया था। दोनों ने तीन जगह शराब पी। इसके बाद राममेहर ने गला दबाकर रमलू को मार डाला। रमलू को मारने के बाद राममेहर ने कार के फ्यूल टैंक से डीजल निकाला। कार स्टार्ट रख डीजल छिड़का और आग लगा दी। वारदात के बाद वह पैदल ही ढाणी कुतुबपुर गया। वहां उसने पहले से ही एक कार खड़ी की हुई थी। उसमें दो साथियों को लेकर छत्तीसगढ़ के लिए निकल गया। ढाणी कुतुबपुर में उसका कोई पुराना कर्मचारी रहता है। बिलासपुर में वह परिचित के पास रुका। परिचित को बताया कि वह खेती करना चाहता है और जमीन खरीदने आया है। आरोपी राममेहर पर हत्या समेत कई धाराओं में केस दर्ज किया है। रिमांड के दौरान राममेहर से बिलासपुर जाने के लिए इस्तेमाल कार, बरामद हुए मोबाइल नंबर, एटीएम कार्ड, घटना में अन्य किन-किन व्यक्तियों की संलिप्तता रही, इसके बारे में पूछताछ की जाएगी। राममेहर ने पुलिस को बताया, मेरी आर्थिक स्थिति खराब है। एक से डेढ़ करोड़ रुपए के कर्ज में डूब गया। फैक्ट्री में नुकसान हो रहा था। कर्ज चुकाने के लिए पीएनबी और एचडीएफसी बैंक से पर्सनल लोन लिए। कुछ प्राइवेट लोगों से भी पैसा उठा रखा है। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget