दिवाली पर देशी पटाखे जलाए तो लगेगा एक लाख जुर्माना

Crackers

नई दिल्ली

प्रदूषण की लड़ाई में कई अभियान चलाए जा रहे हैं। बावजूद इसके लापरवाही हो रही है। इसी के चलते दिल्ली सरकार ग्रीन दिल्ली एप ला रही है। साथ ही दीपावली को देखते हुए भी सरकार ने सख्त कदम उठाए हैं। इको फ्रेंडली पटाखे के अलावा अगर देशी पटाखे जलाए तो एक लाख रुपए जुर्माना भरना होगा। सरकार इसके लिए 11 टीमों का गठन कर रही है। नवंबर से ये टीमें काम शुरू कर देंगी। सुप्रीम कोर्ट के भी आदेश है कि दिल्ली की हवा को खराब न होने दिया जाए। दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने कहा कि लोगों की जिंदगी पर असर डाल रहा है पटाखों का ज़हर

मंत्री गोपाल राय का कहना है कि पराली और दिवाली के पटाखे का धुआं हवा को ज़हरीला बना रहा है। यह हवा लोगों की जिंदगी पर असर डाल रही है। इसी के चलते सरकार ने निर्णय लिया है कि अदालत के आदेशानुसार दिल्ली के अंदर केवल ग्रीन क्रैकर्स यानी इको फ्रेंडली पटाखों का उत्पादन, बिक्री और इस्तेमाल किया जा सकेगा. क्योंकि इन पटाखों में सल्फ़र डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन बहुत कम मात्रा में होते हैं।

ग्रीन क्रैकर के उपयोग से जो धुआं होता है वो काफी कम होता है। हमारी एनओसी के मुताबिक दिल्ली में 93 उत्पादक एजेन्सी हैं जो फायर टेक्निक मिलाकर क्रैकर बना सकती हैं। इसी तरह के पटाखे आयात किए जा सकेंगे। यह लिस्ट हम वेबसाइट पर अपलोड कर देंगे।

फैक्ट्रियों और दुकानों में होगी चेकिंग

गोपाल राय ने यह भी बताया कि ग्रीन क्रैकर का इस्तेमाल हो रहा है या नहीं, इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस को निर्देश दिया था। डीपीसीसी की तरफ से कल नोटिस जारी की जाएगी कि वो निगरानी करें। तीन नवंबर से एन्टी क्रेकर अभियान जारी करेंगे और ये दीवाली के बाद तक जारी रहेगा।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget