हाई हील से पैरों में दर्द ऐसे पहुंचाएं राहत


ऐसा कई बार देखा गया है कि लड़कियों को हाई हील पहनने के बाद पैरों में बहुत ़ज्यादा दर्द होता है। हाई हील्स पहनने से ख़ुशी तो मिलती है लेकिन उसके साथ दर्द भी मुफ्त में मिलता है इसलिए आज हम इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताएंगे जिससे पैरों के दर्द में राहत मिलेगी। बहरहाल, इस दर्द के बावजूद वो फिर से हाई हील्स पहनने के लिए तैयार हो जाती हैं। अगर आपका भी नाम इस फेहरिस्त में शामिल है जो भयानक दर्द के बावजूद भी हाई हील्स पहनने के लिए तैयार रहते हैं तो आप इन आसान उपचार से अपने दर्द को कम कर सकती हैं। 


 आइस पैक

 हील के दर्द को कम करने में आइस पैक एक सबसे कारगर उपाय है। आइस पैक दर्द को कम करने में काफी असर दिखाता है क्योंकि ये इन्फ्लेक्शन को कम करके पैरों को राहत देता है। 

इसके लिए आपको एक बोतल को फ्रीज करना है और फिर इस जमी हुई बोतल को अपनी हील के नीचे रखना है। इसे अपने पैरों के नीचे रोल करें, थोड़ी देर रुक कर फिर से ऐसा करें। दोनों पैरों के साथ ऐसा करें जब तक आपको आराम ना मिले। 

विनेगर

 पैरों के दर्द में राहत पाने में विनेगर दूसरा बड़ा उपचार है। ये स्किन के इन्फ्लेशन को कम करके दर्द में आराम देता है। एक टब में गर्म पानी लें और उसमें तीन चार चम्मच विनेगर मिला लें। अब इसमें अपने पैरों को रखें और 15 से 20 मिनट तक इंतज़ार करें। जब आपके पैरों को सुकून मिल जाए तब अपने पैरों को टब से बाहर निकाल लें। 

लौंग का तेल

 एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होने की वजह से लौंग का तेल हील की वजह से पैरों में उठने वाले दर्द में राहत देता है। आप लौंग का तेल लें और सोने जाने से पहले इसे अपने तलवों में लगा लें। लौंग का तेल सिर्फ पैर के दर्द में ही नहीं बल्कि सिर दर्द और शरीर के दर्द में भी आराम देता है। आपको लौंग के तेल का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए क्योंकि ये शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है जिससे आप रिलैक्स फील करते हैं। 

सेंधा नमक

 पैरों में हो रहे दर्द से छुटकारा पाने के लिए थोड़ा सा सेंधा नमक गर्म पानी में डाल दें और उसमें अपने पैरों को डूबा दें। 20 मिनट के लिए उस पानी में ही पैरों को रखें और फिर हल्के गुनगुने पानी से धो लें। आपको तुरंत ही अंतर पता चल जाएगा क्योंकि सेंधा नमक में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने की क्षमता है जिससे आपकी स्किन को भी राहत मिलती है। मगर सेंधा नमक का इस्तेमाल करते समय आपको एक बात का ध्यान ज़रूर रखना चाहिए। दरअसल सेंधा नमक का ज्यादा देर प्रयोग करने से आपकी स्किन ड्राई हो सकती है इसलिए आप पानी से पैर बाहर निकालने के बाद तुरंत माइशचराइजर का इस्तेमाल करें। 

तकिये की एक्सरसाइज 

 जब त क  आप इस दर्द से उबरकर नॉर्मलिस्थति में आने का प्रयास कर रही हैं तब तक आप अपने पैरों के नीचे तिक  या रखें और कुछ देर इंतज़ार करें। पैरों के नीचे तकिया रखने से नर्वस सिस्टम को दोबारा ठीक से काम करने का समय मिल पाता है। इससे पैरों में हुई सूजन भी कम होती है। आप रात में इसे ट्राई करें और आपको अगली सुबह इसका फर्क पता चलेगा। 

गर्म और ठंडा पानी 

 आपके लिए गर्म और ठंडे पानी वाला एक्सरसाइज भी पैरों के दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। गर्म पानी जहां शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है तो वहीं ठंडा पानी इन्फ्लेक्शन को कम करता है। 

एक बाल्टी में गर्म पानी लें और एक बाल्टी को ठंडे पानी से भर दें। अब अपने पैरों को कुछ देर के लिए गर्म पानी में डुबाएं और फिर ठंडे पानी में रखें। ये कई बार आपको करते रहना है। बेहतर महसूस होने पर रुक जाएं। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget