चीन ने एलएसी पर बढ़ाए सैनिक


नई दिल्ली

भारत से लद्दाख में उलझा चीन अब अरुणाचल प्रदेश में नया फ्रंट खोलने की तैयारियों में जुटा है। हाल में ली गई सैटेलाइट तस्वीर से खुलासा हुआ है कि चीन अरुणाचल बॉर्डर से 130 किलोमीटर की दूरी पर स्थित चामडो बंगडा एयरबेस का विस्तार कर रह है। यहां पर विमानों के उड़ान भरने के लिए नया रनवे और उनकी मेंटिनेंस के लिए नए एप्रन का निर्माण किया जा रहा है।

सैटेलाइट इमेज से हुआ खुलासा

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस की सैटेलाइट इमेज में दिखाया गया है कि चीन 4400 मीटर की ऊंचाई पर कैसे यहां मिलिट्री के इस्तेमाल के लिए नया रनवे बना रहा है। यह रनवे याकू नदी के पश्चिमी किनारे पर स्थित है। चामडो बंगडा एयरबेस पर पहले से ही 5500 मीटर का एक रनवे मौजूद था। इसके अलावा चीन जो नया रनवे बना रहा है, उसकी लंबाई 4500 मीटर के आसपास है। सैटेलाइट तस्वीर में रनवे के नजदीक मिलिट्री के इस्तेमाल के लिए बनाया गया एप्रन दिखाई दे रहा है।

माना जा रहा है कि चीन ठंड के दिनों में अपने कुछ ट्रूप्स और हथियारों को इस सीमा पर तैनात करने की प्लानिंग कर रहा है। इस बेस पर यह निर्माण गतिविधियां जून 2020 में शुरू हुईं थीं जो अब तक जारी है।

आसान नहीं है यहां से उड़ान भरना

यह एयरपोर्ट इतनी ऊंचाई पर स्थित है कि यहां से उड़ान भरना सभी विमानों के लिए आसान नहीं होगा। यहां ठंड के दिनों में तापमान शून्य से काफी नीचे रहता है। जबकि, सामान्य दिनों में भी यहां तेज हवा, ऑक्सीजन की कमी और हवा का कम घनत्व विमानों के उड़ने में बाधक बनता है।

ठंड के दिनों में तो हवा की स्पीड 30 मीटर प्रति सेकेंड तक चली जाती है।ओपन सोर्स इंटेलिजेंस एनालिस्ट ने एक तस्वीर जारी कर एलएसी के नजदीक चीनी एयरबेस की डिटेल्स शेयर की है। इसमें संबंधित एयरबेस पर तैनात एयरक्राफ्ट के बारे में भी जानकारी दी गई है। बता दें कि अत्याधिक ऊंचाई पर स्थित होने के कारण चीन इस इलाके में हवाई शक्ति के मामले में भारत से कमजोर है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget