राज्य में अपने दम पर सत्ता में आएगी भाजपा : नड्डा


मुंबई

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र में पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी को जनादेश मिला था, लेकिन दल के साथ धोखा किया गया और पार्टी जल्द अपने दम पर राज्य की सत्ता में आएगी। वे दादर स्थित वसंत स्मृति भवन में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को ऑनलाइन के माध्यम से संबोधित कर रहे थे।
नड्डा ने कहा कि 2019 के विधानसभा चुनाव में जनादेश भाजपा के लिए था, लेकिन हम से धोखा किया गया। मैं महाराष्ट्र के भाजपा कार्यकर्ताओं को आश्वस्त करता हूं कि जल्द सभी तीनों (सत्तारूढ़) पार्टियां विपक्ष में बैठेंगी और भाजपा अपने दम पर सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि हम सरकार को पूरी तरह से उखाड़ फेंकेगे। भाजपा और शिवसेना ने 2019 का विधानसभा चुनाव मिल कर लड़ा था, लेकिन चुनाव के बाद शिवसेना भाजपा से सत्ता साझेदारी को लेकर विवाद के बाद अलग हो गई थी और राकांपा तथा कांग्रेस के साथ मिल कर सरकार बना ली थी। नड्डा ने कहा कि स्थिति इतनी खराब है कि कोई नहीं जानता है कि महाराष्ट्र में सत्ता में कौन है। बायां हाथ यह नहीं जानता है कि दायां हाथ क्या कर रहा है। उन्होंने कहा कि कई लोग देवेंद्र फड़नवीस को मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। फिलहाल महाराष्ट्र में हम असल विपक्ष हैं और राज्य में जल्द ही सत्तारूढ़ दल बनने जा रहे हैं।
नड्डा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि विधेयक का विपक्ष राजनीति उद्देश्य के तहत विरोध कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लाए गए नए कानून को ऐतिहासिक बताते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को लोगों के पास जाना चाहिए और इस दुष्प्रचार का स्पष्ट जवाब देना चाहिए। नड्डा ने कहा कि कोरोना का प्रसार को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समय पर लॉकडाउन को लगाने का निर्णय लिया। पश्चिमी देशों द्वारा की गई भविष्यवाणियां झूठी साबित हुईं। भारत द्वारा किए गए उपायों की अब बड़े देशों द्वारा प्रशंसा की जा रही है। लॉकडाउन के दौरान घोषित आत्मनिर्भर पैकेज समाज के सभी वर्गों जैसे उद्योगपतियों और किसानों को विभिन्न योजनाएं प्रदान कर रहा है। पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को आम जनता को इन योजनाओं की जानकारी देनी चाहिए।
नड्डा ने कहा कि अन्य दलों और भाजपा के बीच बड़ा अंतर है। बिना नाम लेते हुए कांग्रेस और राकांपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कई दल एक परिवार तक सीमित हैं, लेकिन भाजपा एक परिवार है। भाजपा की विचारधारा और दूसरी पार्टी की विचारधारा में बड़ा अंतर है। भाजपा की विचारधारा में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का महत्वपूर्ण स्थान है। एकात्म मानववाद, अंत्योदय इस विचारधारा का हिस्सा है।
बैठक में विधानसभा में विपक्ष नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस,भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री वी सतीश, प्रदेश संगठन मंत्री विजय पुराणिक, राष्ट्रीय सचिव विनोद तावड़े, राष्ट्रीय सचिव सुनील देवधर, प्रदेश महामंत्री और विधायक सुजीत सिंह ठाकुर, प्रदेश महामंत्री श्रीकांत भारतीय, विधान परिषद में विपक्ष नेता प्रवीण दरेकर, राज्य के पूर्व मंत्री और विधायक आशीष शेलार, पूर्व मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले के साथ -साथ कई अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget