तेजस्वी ने नीतीश को बताया कुर्सी का लालची

 समस्तीपुर

 पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के नामांकन के साथ ही महागठबंधन के प्रमुख दल राजद ने अपने चुनाव अभियान की शुरुआत की। नामांकन में हिस्सा लेने रोसड़ा पहुंचे तेजस्वी यादव ने मीडिया से बात करते हुए सीएम नीतीश कुमार को निशाना बनाया। उन्होंने कहा, इनकी कोई विचारधारा नहीं है। ये कुर्सी के लिए कभी इधर तो कभी उधर करते रहते हैं। इसके लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। तेजस्वी ने दावा किया कि 10 नवंबर को घोषित होने वाल चुनाव परिणाम उनके दल के पक्ष में आएगा। उन्होंने कहा, महागठबंधन की सरकार बननी तय है। इसके बाद सबसे पहला काम बिहार के 10 लाख बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देने का होगा। विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता सह पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार की सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी, तेजी से बढ़ रहीं आपराधिक घटनाएं, भ्रष्टाचार और पलायन हैं। मेरी सरकार बनती है तो इस पर अंकुश लगाया जाएगा। लॉकडाउन के समय प्रवासी मजदूरों की हालत के लिए सीधे तौर उन्होंने नीतीश कुमार को दोषी ठहराया। पत्रकारों से बात करने के दौरान उन्होंने कहा कि हमलोग एक कॉमन मिनिमन प्रोग्राम बनाकर राज्य से भूखमरी, पलायन व अपराधीकरण को दूर करेंगे। वे बार-बार रोजगार का सवाल उठा रहे थे। रोसड़ा अनुमंडल कार्यालय में नामांकन की प्रक्रिया के दौरान भोला यादव भी साथ रहे। लेकिन राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह बाहर ही छूट गए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget