बंगाल में भाजपा नेताओं पर एफआईआर दर्ज

FIR

कोलकाता

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने भाजपा के 'नबन्ना चलो अभियान' पर कड़ा रवैया अपनाया है। इस अभियान को लेकर कोलकाता पुलिस ने भाजपा के राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय, सांसद लॉकेट चटर्जी, अर्जुन सिंह, राकेश सिंह, बीजेपी नेताओं भारती घोष और जयप्रकाश मजुमदार के खिलाफ गैरकानूनी विधानसभा और कानून उल्लंघन के मामले में मुकदमा दर्ज किया है। उधर, पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कोलकाता पुलसि की कार्रवाई पर ममता सरकार पर हमला बोला है। भारतीय जनता पार्टी के पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को कहा, 'पुलिस तृणमूल कांग्रेस कैडर की तरह काम कर रही है। यह साफ है कि सीएम ममता बनर्जी डरी हुई हैं और इसलिए पुलिस का इस्तेमाल अपने कैडर के रूप में कर रही हैं। हमारे खिलाफ दर्ज मामले शर्मनाक हैं। हम कानूनी रूप से लड़ेंगे'। इससे पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने कहा कि बीजेपी का राज्य सचिवालय नबान्न तक मार्च बिना अनुमति के निकाला गया जो महामारी अधिनियम के स्वीकार्य मानकों के दायरे में नहीं था। हजारों भाजपा कार्यकर्ताओं ने राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ सचिवालय तक मार्च में भाग लिया। मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय ने कहा कि सरकार ने मार्च की अनुमति नहीं दी थी आवेदनों में कहा गया था कि कई रैलियां निकाली जाएंगी और सभी में करीब 25-25 हजार प्रतिभागी भाग लेंगे।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget