त्योहारी सीजन में मोदी सरकार देगी तोहफा

 जनधन अकाउंट में फिर से भेज सकती है 1500 रुपए 

Shopping

नई दिल्ली 

कोरोना वायरस के चलते पूरी अर्थव्यवस्था तहस नहस हो गई है। कोरोना की सबसे अधिक गरीबों पर पड़ी है। लिहाजा मोदी सरकार ने गरीबों के लिए फ्री में नवंबर तक अनाज बांटने की घोषणा की थी। अब कहा जा रहा है कि इसे मार्च 2021 तक बढ़ाया जा सकता है। इसी तरह मोदी सरकार ने जनधन अकाउंट में महिलाओं के अकाउंट में पिछली बार 1500 रुपए भेजे गए थे। अब मोदी सरकार फिर से त्योहारी सीजन को देखते हुए गरीब महिलाओं के अकाउंट में 1500 रुपए भेजने की तैयारी कर रही है। सरकार का मकसद है कि गरीब परिवार हंसी खुशी से अपने त्योहार मना सके। एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार गरीब और कमजोर परिवार के लोगों के लिए तीसरे प्रोत्साहन पैकेज तैयारी कर रही है। सरकार गरीब कल्याण योजना के तहत अनाज और पैसे देने की घोषणा कर कर सकती है। दरअसल सरकार ने 20 करोड़ से अधिक महिला जनधन अकाउंट होल्डर्स के अकाउंट में 3 महीने में 1500 रुपए भेजे थे। बता दें कि केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत प्रधानमंत्री जन धन योजना लागू की है। 

कैसे खुलवाएं जनधन अकाउंट 

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जीरो बैलेंस पर सेविंग अकाउंट खुलवाया जा सकता है। इसमें चेक सुविधा, इंश्योरेंस जैसी तमाम सुविधाएं दी जाती हैं। आप किसी भी बैंक की ब्रांच में जाकर जरूरी डॉक्यमेंट्स लेकर अपना अकाउंट खुलवा सकते हैं। 

इन डॉक्यूमेंट्स की है जरूरत 

जनधन अकाउंट ओपन कराने के लिए आधार कार्ड, पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल कर सकते हैं। ताकि आपका केवायसी पूरा किया जा सके। अगर आपके पास कोई डॉक्यूमेंट्स नहीं है तो आप अपनी सेल्फ अटेस्टेड फोटो लेकर बैंक अधिकारी के सामने अपने साइन करके आप अकाउंट ओपन करा सकते हैं। यहां पर यह ध्यान देने योग्य बात है कि जनधन अकाउंट खुलवाने के लिए किसी भी तरह की कोई फीस नहीं लगती है। इस अकाउंट को कोई 10 साल से ऊपर के लोग खुलवा सकते हैं। 

अकाउंट ओपन होने पर मिलती हैं कई सुविधाएं 

इस अकाउंट में ओपन कराने पर ओवर ड्रॉफ्ट की सुविधा के साथ रुपे डेबिट कार्ड की सुविधा भी मुहैया कराई जाती है। डेबिट कार्ड पर 1 लाख रुपए का एक्सिडेंट इंश्योरेंस मिलता है। सरकारी योजनाओं का जो लाभ मिलता है। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget