राज्य में सहन नहीं करेंगे हाथरस जैसी घटनाएं: मुख्यमंत्री

मीरा-भायंदर, वसई -विरार पुलिस आयुक्तालय का उद्घाटन

uddhav thackeray
मुंबई
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को कहा कि राज्य में हाथरस जैसी घटनाओं को सहन नहीं किया जाएगा और जो महिलाओं के विरूद्ध अपराध में संलिप्त होंगे, उनसे कठोरता से निपटा जाएगा। उत्तर प्रदेश की हाथरस की 19 वर्षीय दलित युवती के साथ 14 सितंबर को चार व्यक्तियों ने बलात्कार किया था और मंगलवार को उसकी मौत हो गई थी। ठाकरे ने नव गठित मीरा-भायंदर, वसई-विरार पुलिस आयुक्तालय का ऑनलाइन के माध्यम से उद्धाटन करते हुए यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि जब इस जैसी घटनाएं उत्तर प्रदेश में होती हैं, तो हम आमतौर पर कुछ समय के लिए इस पर चर्चा करते हैं और फिर भूल जाते हैं, लेकिन महाराष्ट्र में ऐसी घटनाएं होने नहीं दी जाएंगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कई दिनों से मीरा-भायंदर, वसई-विरार पुलिस आयुक्तालय बनाने की मांग चल रही थी। इन शहरों की आबादी बढ़ती जा रही है, जिसे देखते हुए नया आयुक्तालय बनाने का निर्णय लिया गया था। ठाकरे ने कहा कि जनता की सुरक्षा करना पुलिस का पहला कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि पुलिस के प्रति अपराधियों में डर और आम जनता में सम्मान होना चाहिए। गुंडागर्दी पर अंकुश लगाने के अलावा, महिलाओं के लिए एक सुरक्षित वातावरण बनाया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सही काम करने वाले पुलिस अधिकारियों और सुरक्षाकर्मियों के साथ सरकार मजबूती से खड़ी है। मीरा-भायंदर, वसई -विरार के पहले पुलिस आयुक्त सदानंद दाते पर विश्वास जताते हुए ठाकरे ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि आयुक्त के रूप में दाते निश्चित तौर पर आदर्श कार्य करेंगे।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget