प्रदूषण की समस्या एक दिन में नहीं हो सकती हल: जावड़ेकर

Javdekar

नई दिल्ली

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को कहा कि प्रदूषण की समस्या को एक दिन में हल नहीं किया जा सकता है और प्रदूषण फैलाने वाले हर कारक से निपटने के लिए लगातार प्रयास की जरूरत है। फेसबुक लाइव कार्यक्रम के जरिये लोगों से संवाद करते हुए, जावड़ेकर ने कहा कि देश में वायु प्रदूषण के पीछे प्रमुख कारक यातायात, उद्योग, अपशिष्ट, धूल, पराली, भूगोल एवं मौसमी दशाएं हैं। मंत्री ने कहा, 'प्रदूषण की समस्या एक दिन में हल नहीं की जा सकती है। प्रत्येक कारक से निपटने के लिए लगातार प्रयास की जरूरत है'। जावड़ेकर ने कहा कि ई-वाहन लोकप्रिय हो रहे हैं और भारत में फिलहाल दो लाख ई-वाहनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा, 'मैं खुद ई-वाहन का इस्तेमाल करता हूं। मैं इसे अपने घर पर चार्ज करता हूं। मैं ई-स्कूटी भी चलाता हूं'। मंत्री ने कहा कि सरकार बीएस छह ईंधन लेकर आई, जिसने वाहनों के उत्सर्जन को 60 फीसदी तक कम कर दिया। वाहनों से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए मेट्रो और ई- बसों को लाया गया है। जावड़ेकर ने कहा कि 'खराब वायु' के दिनों की संख्या भी कम हुई है। यह 2016 में 250 दिन थे, जो 2020 में 180 दिवस रह गए। उन्होंने कहा कि वायु प्रदूषण से निपटने में लोगों की बड़ी भूमिका है। मंत्री ने लोगों से आग्रह किया कि वे अलग-अलग शहरों में प्रदूषण की निगरानी के लिए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की 'समीर' मोबाइल ऐप डाउनलोड करें।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget