दिल का रखे हरदम ख्याल

heart

कम उम्र में दिल की बीमारी बढ़ रही है। इसके पीछे कई कारण हैं। जिसमें हमारी कई आदतें हमारे दिल को नुकसान पहुंचा रही हैं। जिनके बारे में लोगों को पता नहीं है। ये आदतें धीरे-धीरे हृदय रोग का कारण बनती हैं। इसलिए आज हम आपको ऐसी आदतों के बारे में बताएंगे। जो दैनिक कामों और खानपान से जुड़ा है। जो हृदय रोग का कारण बनता है। अत्यधिक तनाव और ङ्क्षखचाव बीपी बढ़ा सकता है। इससे हृदय पर दबाव बढ़ता है और हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। शारीरिक गतिविधि नहीं करने से रक्त संचार ठीक से नहीं होता है। इससे रक्त वाहिकाओं और हृदय रोग में रुकावट का खतरा बढ़ जाता है। 

अधिक भोजन करने से रक्त वाहिकाओं में वसा का निर्माण होता है। जो उच्च रक्तचाप का कारण बनता है। इससे दिल की बीमारी हो सकती है।देर रात तक जागना, पर्याप्त नींद नहीं लेने से हाई बीपी, हाई कोलेस्ट्रॉल, डिप्रेशन जैसी बीमारियां हो सकती हैं। यह हृदय के लिए भी हानिकारक है। बहुत अधिक नमक और चीनी खाने से उच्च रक्तचाप और मधुमेह हो सकता है। ये रोग रक्त नसों को अवरुद्ध करते हैं और हृदय रोग के जोखिम को बढ़ाते हैं। धूम्रपान उन नसों को अवरुद्ध करता है जो हृदय को रक्त की आपूर्ति करती हैं। इससे हृदय रोग का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। अत्यधिक व्यायाम हृदय पर दबाव बढ़ाता है। इसलिए सीमा से अधिक व्यायाम करने के लिए अपने शरीर को धक्का न दें। अन्यथा हृदय रोग की संभावना बढ़ सकती है। नींद के दौरान जोर से खर्राटे लेने से सांस लेने में कठिनाई होती है और दिल पर दबाव बढ़ जाता है। जिसके कारण दिल का दौरा पड़ सकता है। जंक फूड और तैलीय भोजन रक्त नसों में रुकावट पैदा करते हैं। जिससे दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। इससे हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई बीपी, लीवर की बीमारी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। जिसके कारण दिल की समस्या हो सकती है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget