बंगाल में बवाल: ममता की पुलिस हुई निरंकुश


कोलकाता

पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। भाजपा कार्यकर्ता बड़ी संख्या में 'नाबन्ना चलो' आंदोलन कर रहे थे। वहीं, प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया है। इसके साथ ही उनपर वाटर कैनन का भी प्रयोग किया गया है। प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए भारी पुलिस बल जुटा रहा। वाटर कैनन में केमिकल (रसायन) मिलाने की भी बात कही गई है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि मुझे बताया गया है कि पानी (वाटर कैनन) में कुछ केमिकल का इस्तेमाल किया गया था, जिसके कारण लोगों को उल्टी हो रही थी। वाटर कैनन में केमिकल मिलाने की बात को पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय ने खारिज कर दिया है।

नहीं किया गया था रसायन का इस्तेमाल : मुख्य सचिव
उन्होंने कहा है कि वाटर कैनन में किसी रसायन का इस्तेमाल नहीं किया गया था। यह गलत जानकारी है। इसके अलावा राज्य के मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय ने कहा है कि भाजपा मार्च के दौरान हिंसक घटनाओं के प्रमाण मिले हैं, फायरआर्म बरामद हुए हैं, पुलिसकर्मियों पर भी हमला किया गया है। कोलकाता पुलिस ने 89 लोगों को और हावड़ा पुलिस ने 24 लोगों को हिरासत में लिया है। कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।
बंगाल में हो रहे बवाल पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि, पार्टी द्वारा बताया गया कि अब तक 115 भाजपा कायकर्ता बंगाल में राजनीतिक हिंसा का शिकार हुए हैं, जिसमें पुलिस द्वारा कोई प्रमाणिक कार्रवाई नहीं हुई। आज के मार्च में लगभग एक लाख लोग थे। हमारे तकरीबन 1500 कार्यकर्ता इसमें घायल हुए हैं। भाजपा इस बर्बरतापूर्ण आचरण की भर्त्सना करती है। हम बहुत ही विनम्रता से ये कहना चाहते हैं ममता जी और टीएमसी को कि अगर आपको लगता है कि लाठी से और पुलिसिया दमन से आप भाजपा के विस्तार को बंगाल में रोक लेंगी तो आप इसमें सफल नहीं होंगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मुझे बताया गया है कि पानी (वाटर कैनन) में कुछ रसायन का इस्तेमाल किया गया था, जिसके कारण लोगों को उल्टी हो रही थी।

यह लोकतंत्र के लिए काला दिन: तेजस्वी सूर्या
भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने कहा, यह लोकतंत्र के लिए काला दिन है। दिनदहाड़े लोकतंत्र और संवैधानिक अधिकारों की हत्या ममता बनर्जी सरकार द्वारा की गई है। देश की सबसे भ्रष्ट सरकार पश्चिम बंगाल में है। राज्य में सिंडिकेट और कट मनी गवर्नमेंट की वजह से बेरोजगारी बढ़ रही है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget