युद्ध की तैयारियों में लगा चीन?

China Army
बीजिंग
भारत-चीन में पांच महीनों से जारी सीमा विवाद के बीच क्या ड्रैगन युद्ध की तैयारियों में लग गया है? क्या आने वाले समय में दोनों देशों की सीमा पर कुछ 'बड़ा' देखने को मिल सकता है? ऐसे सवाल उन रिपोर्ट्स के बाद उठने लगे हैं, जिनमें बताया गया है कि चीन ने तिब्बत के नगारी क्षेत्र की सीमा पर आधुनिक बैरक बनाए हैं। पड़ोसी देश ने अपने सैनिकों और हथियारों को रखने के लिए इन बैरकों का निर्माण किया है। चीन की सरकारी मीडिया रिपोर्ट में 'युद्ध की तैयारियों' जैसे शब्दों का भी जिक्र है।
लद्दाख सीमा पर चल रहे वर्तमान तनाव के बीच चीन ने इन नवनिर्मित स्थायी बैरकों का तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र (टीएआर) में पीएलए के सैनिकों के लिए निर्माण किया है। यह संभवत: पहली बार उन सैटेलाइट तस्वीरों की पुष्टि है, जो इस साल की शुरुआत में सामने आई थीं। उन तस्वीरों में नगारी क्षेत्र की एलएसी के पास बड़े पैमाने पर निर्माण की गतिविधियों को देखा जा सकता था।
हालांकि, सीमा पर कितने चीनी सैनिकों की मौजूदगी है, भले ही इसका सही जवाब नहीं मिल सका हो। लेकिन, रिपोर्ट्स और तस्वीरों को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि चीनी सैनिक बड़ी संख्या में मौजूद हैं। ये बैरक 1962 के भारत-चीन युद्ध के प्राथमिक युद्ध मोर्चों के करीब 15000 फीट की ऊंचाई पर स्थित हैं। चीन के सरकारी ब्रॉडकास्टर, चाइना सेंट्रल टेलीविजन (सीसीटीवी) ने इस बारे में ब्योरा साझा नहीं किया है कि इन बैरकों को बनाने में कितना समय लगा या फिर निर्माण की शुरुआत कब हुई।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget