नये जोश के साथ उतरेंगी मुंबई और पंजाब की टीमे

अबुधाबी
पिछले मैचों में बेहतर प्रदर्शन करने के बावजूद हार का सामना करने वाली मुंबई इंडियन्स और किंग्स इलेवन पंजाब की टीमें गुरुवार को यहां होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में छोटी-छोटी गलतियों से बचकर लय हासिल करने की कोशिश करेंगी। किंग्स इलेवन ने राजस्थान रॉयल्स को रविवार को खेले गए मैच में 224 रन का लक्ष्य दिया, लेकिन वह इसका बचाव नहीं कर पाया जो टीम के लिए गहरा झटका है। दूसरी तरफ मुंबई ने कीरोन पोलार्ड और इशान किशन की लाजवाब पारियों की बदौलत रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ 202 रन के लक्ष्य तक पहुंचने का प्रयास किया, लेकिन आखिर में सुपर ओवर में उसे दो अंक गंवाने पड़े।
मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियन्स ने अपना पहला मैच गंवाया था, लेकिन कोलकाता नाइटराइडर्स को हराकर उसने शानदार वापसी की थी। आरसीबी के खिलाफ हालांकि छोटी-छोटी गलतियां उसे भारी पड़ गई थी। लगभग यही स्थिति किंग्स इलेवन की भी है जिसने दिल्ली कैपिटल्स से पहला मैच गंवाने के बाद आरसीबी के खिलाफ अपना खाता खोला, लेकिन रॉयल्स के खिलाफ बेहतरीन बल्लेबाजी के बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा। किंग्स इलेवन ने भी कुछ गलतियां की जिन्हें वह दोहराने से बचना चाहेगा। उसने जब विरोधी टीम पर नकेल कसनी थी तब वह ऐसा करने में नाकाम रहा। अपने दो मैचों में वह बेहतर स्थिति में था, लेकिन इसका फायदा नहीं उठा पाया।
रॉयल्स के खिलाफ पंजाब के गेंदबाज अपनी लय में नहीं दिखे। शेल्डन कॉटरेल के एक ओवर में राहुल तेवतिया के पांच छक्के इसका सबूत है। यहां तक कि बेहतरीन फॉर्म में चल रहे मोहम्मद शमी ने भी चार ओवर में 53 रन लुटाए और तीन विकेट लिए। लेग स्पिनर रवि बिश्नोई को छोड़कर कोई भी गेंदबाज पिछले मैच में प्रभाव नहीं छोड़ पाया। कप्तान केएल राहुल ने हालांकि बेहद सकारात्मक रवैया अपनाए रखा और अपने गेंदबाजों का उत्साह बढ़ाया।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget