देश का एनर्जी फ्यूचर उज्ज्वल और सुरक्षित: मोदी

इंडिया एनर्जी फोरम सेरावीक का किया उद्घाटन 'वन नेशन वन गैस ग्रिड' की कही बात


 नई दिल्ली 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इंडिया एनर्जी फोरम सेरावीक का उद्घाटन किया। नीति आयोग के साथ पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने इस वार्षिक बैठक का आयोजन किया था। इंडिया एनर्जी फोरम सेरावीक के उद्घाटन के बाद पीएम मोदी ने दुनिया की दिग्गज तेल और गैस कंपनियों के सीईओ के साथ बातचीत भी की।आईएचएस मार्किट इस कार्यक्रम का आयोजक है, जिसने बताया है कि ये कार्यक्रम 26 अक्टूबर से 28 अक्टूबर तक चलेगा। 

इस कार्यक्रम को प्रधानमंत्री मोदी के अलावा पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, अमेरिका के ऊर्जा मंत्री डैन ब्रोइलेट, पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) के महासचिव मोहम्मद बरकिंडो और सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री अब्दुल अजीज बिन सलमान ने भी संबोधित किया और भारत के साथ अच्छी पार्टनरशिप निभाए जाने की बात कही। पीएम मोदी ने सबसे पहले तो इंडिया एनर्जी फोरम सेरावीक के चौथे एडिशन में सभी का स्वागत किया और अपनी बात कही। वह बोले कि भारत का एनर्जी फ्यूचर उज्ज्वल और सुरक्षित है। ऐसा इसलिए क्योंकि ये साल एनर्जी सेक्टर के लिए चुनौती से भरा रहा, एनर्जी की मांग एक तिहाई तक गिरी, निवेश के फैसलों पर असर पड़ा, अगले कुछ सालों तक एनर्जी की डिमांड पर भी असर रह सकता है, लेकिन भारत ने लंबी अवधि में एनर्जी की खपत को करीब दोगुना तक कर दिया है। 

'भारत तीसरा सबसे तेज बढ़ने वाला एविएशन मार्केट' 

भारत तीसरा सबसे बड़ा और सबसे तेज बढ़ने वाला डोमेस्टिक एविएशन मार्केट है। उन्होंने यह भी बताया कि भारत में 100 फीसदी इलेक्ट्रिफिकेशन हो चुका है और एलपीजी की खपत भी बढ़ी है। लोगों का जीवन बेहतर बनाने के लिए अधिक एनर्जी की जरूरत है। हमारा एनर्जी सेक्टर ग्रोथ सेंट्रिक होने के साथ-साथ इंडस्ट्री फ्रेंडली है और एनवायरमेंट फ्रेंडली भी है। भारत रीन्यूबल सोर्स ऑफ एनर्जी की दिशा में भी खूब काम कर रहा है, पिछले 3 सालों में 360 मिलियन एलईडी बल्ब बांटे गए हैं और एलईडी बल्ब की कीमत भी 10 गुना तक घटी है। 

पीएम ने कहा कि हमने करीब 24 हजार करोड़ रुपये सालाना बचाए। भारत क्लीन एनर्जी इन्वेस्टमेंट के लिए सबसे आकर्षक मार्केट है। भारत दुनिया के हित को ध्यान में रखकर काम करता है और अपने लक्ष्य को हासिल करता है। भारत पूरी दुनिया के मुकाबले कम कार्बन एमिशन वाले देशों में से है। एनर्जी सेक्टर में बहुत सारे अच्छे बदलाव हुए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि वह वन नेशन वन गैस ग्रिड बनाना चाहते हैं। लंबे समय से दुनिया ने कच्चे तेल के दाम बढ़ते हुए देखे हैं। पीएम ने यह भी बताया कि पड़ोसी देशों के साथ एनर्जी कोरिडोर भी बनाया जा रहा है, ताकि सबको फायदा हो सके। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget