मालदीव ने मदद के लिए भारत का शुक्रिया कहा

maldives
संयुक्त राष्ट्र
मालदीव ने कोरोना काल में भारत से मिली आर्थिक मदद के लिए आभार जताया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र में मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने कहा, 'मैं अपने सभी सहयोगियों को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने इस संकट के दौरान भी उदारतापूर्वक आर्थिक, भौतिक और तकनीकी सहायता की है, जबकि वे खुद भी चुनौतियों से जूझ रहे थे। भारत ने तो मिसाल पेश की है। इस दौरान भारत ने 250 मिलियन डॉलर (लगभग 1, 842 करोड़ रुपये) की सहायता की, जो सबसे बड़ी वित्तीय मदद है।
विदेश मंत्री ने कहा- सहयोगियों के मदद के बिना कोरोना महामारी से निपटना मुश्किल होता उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के चलते दुनिया को वैश्विक सहयोग के महत्व का पता चला। अपने दोस्तों और बहुपक्षीय सहयोगियों की मदद के बिना मालदीव का इस मुसीबत से निपटना मुश्किल होता।
भारी आर्थिक संकट से जूझ रहे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मुहम्मद सोलिह के अनुरोध पर इसी महीने राजधानी माले में आयोजित एक समारोह में औपचारिक रूप से भारत द्वारा यह वित्तीय मदद मुहैया कराई गई थी। मालदीव में भारतीय दूतावास के मुताबिक, कोरोना संकट के दौरान भारत मार्च से ही मालदीव की मदद कर रहा है। भारत ने सबसे पहले विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम भेजी थी। इसके अलावा अप्रैल में 6.2 टन दवाएं और मई में 580 टन खाद्य सामग्री भी भेजी गई थी।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget