नेपाल की जमीन पर चीन का कब्जा

Sharma Jinping

नई दिल्ली 

सीमा विवाद पर भारत से लगातार मात खा रहा चीन अब भारत के खिलाफ एक नई रणनीति बनाने में लग गया है। दरअसल, अब चीन नेपाल के जरिए भारत की गतिविधियों पर नजर रखने की मंशा बना रहा है। उसीका नतीजा है कि चीन ने नेपाल के बॉर्डर से सटे 7 जिलों के कई इलाकों पर अवैध कब्जा कर लिया है। हालांकि, चीन की इस हरकत के बाद से भारतीय खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं । 

बारूदी सुरंग बना रहा ड्रैगन 

एजेंसियों ने संकेत दिया है कि चीन तेजी से आगे और आगे बढ़ रहा है और अधिक से अधिक नेपाली सीमाओं पर कब्जा कर बारूदी सुरंग बना रहा है। एक आंतरिक खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन की यह हरकत सीधे तौर पर नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी के लिए बेहद नुकसानदायक सिद्ध हो सकती है, क्योंकि चीन नेपाल में चीनी कम्युनिस्ट के विस्तारवादी एजेंडे को ढालने की कोशिश कर रहा है। 

चीन की हरकत को नेपाल ने किया नजरअंदाज 

रिपोर्ट के अनुसार, नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के सामने चीन की जमीन हथियाने की कोशिश की गई, जिसे नजरअंदाज कर दिया गया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि नेपाली के वह जिले जो चीन की जमीन हड़पने की योजना के शिकार हैं, उनमें दोलखा, गोरखा, दारचुला, हमला, सिंधुपालचौक, संखुवासभा और रसुवा शामिल हैं। चीन ने डोलखा में नेपाल की ओर अंतरराष्ट्रीय सीमा 1,500 मीटर आगे बढ़ाई है। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget