प्याज ने मारी सेंचुरी और हॉफ सेंचुरी की ओर आलू!

Onion

मुंबई

इस फेस्टिव सीजन में आलू-प्याज ने लोगों के आंसू निकाल दिए हैं। टमाटर पहले से ही लाल हुआ पड़ा था।अब बाकी सब्जियां भी रसोई की कमर तोड़ने को बेताब लग रही है। कोरोना की मार झेल रहे आम आदमी पर महंगाई की भी तगड़ी मार पड़ी है।

कोरोना काल में पहले ही आम आदमी कमाई को लेकर चिंतित है, ऊपर से महंगाई की मार ने और परेशान किया हुआ है। इसी बीच प्याज ने लोगों को आंसू निकालना शुरू कर दिया है। आलू भी कम नहीं है, उसकी कीमतें भी होश उड़ाने वाली हैं। सबसे बड़ी दिक्कत ये है कि ये कीमतें बढ़ती ही जा रही है। जहां आलू 50 रुपये किलो तक बिक रहा है, वहीं प्याज ने 100 रुपये प्रति किलो का आंकड़ा भी पार कर लिया है। मुंबई और पुण में प्याज के दाम 100 रुपये से ऊपर जा चुके हैं।

प्याज की मंडी नासिक का क्या है हाल?

नासिक में प्याज का सबसे बड़ा होलसेल मार्केट है, जिसका नाम है लासलगांव होलसेल मार्केट। बता दें कि नासिक में पूरे महाराष्ट्र का करीब 60 फीसदी प्याज उगाया जाता है। हालात तो इतने खराब हैं कि खुद नासिक के रिटेल मार्केट में प्याज 80 रुपये प्रति किलो बिक रही है। पुणे एपीएमसी के एक कमीशन एजेंट विलास भुजबल के अनसार 21 अक्टूबर को मुंबई में प्याज 80-100 रुपये प्रति किलो बिक रहा है, जबकि पुणे में प्याज 100-120 रुपये प्रति किलो तक पहुंच चुका है।

कौन बढ़ा रहा है प्याज के दाम?

सप्लाई में आई गिरावट की वजह से प्याज के दाम तेजी से बढ़ रहे हैं। विलास भुजबल के अनुसार पुणे के बाजार में प्याज की आवक लगभग आधी हो चुकी है, जिसके चलते दाम बढ़ रहे हैं। अभी प्याज की फसल आने में काफी वक्त है तो प्याज और भी महंगा हो सकता है। एपीएमसी के अनुसार पिछले दो महीने में प्याज की सप्लाई करीब 70 फीसदी गिरी है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget