कोरोना के खिलाफ जंग निर्णायक मोड पर : ठाकरे

Uddhav Thackeray

मुंबई

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को रत्नागिरी अस्पताल में प्लाज्मा थेरिपी के लिए बनाए गए अफेरेसिस यूनिट का वीडियो कांफ्रेंस से उद्घाटन करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ की लड़ाई अब निर्णायक मोड़ पर आ गई है। टीका बनने तक मास्क ही हमारे लिए उत्तम टीका है। इस बात का एहसास रखे और दूसरों को भी इस बात का एहसास कराएं कि कोरोना की दूसरी लहर नहीं आने देना है।

मुख्यमंत्री ने 'एमएएच' अर्थात मास्क, दूरी और हाथों की स्वच्छता की कसम लेने का सभी से आव्हान किया। कार्यक्रम में रत्नागिरी के पालक मंत्री अनिल परब, सार्वजनिक स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, उच्च एवं तकनीक शिक्षा मंत्री उदय सामंत, सांसद विनायक राऊत आदि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोकण को लहरों का सामना कैसे करना है, यह सिखाने की जरुरत नहीं, वे इस बात से वाकिफ हैं, लेकिन कोरोना के संदर्भ में दूसरी लहर नहीं आने देना है और यहीं प्राथमिकता भी है। कोरोना मुक्त व्यक्ति एक महीने में दो बार प्लाज्मा दान करके अन्य चार लोगों की जान बचा सकते है। जिससे आने वाले दिनों में मृत्युदर भी कम होने में मदद होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि 'मेरा परिवार-मेरी जिम्मेदारी' अभियान में रत्नागिरी जिले में जो काम हुआ है, वह सरहनीय है। आगे भी इसी तरह से जनजागरण कर कोरोना का आंकड़ा और भी कम करने का प्रयास करें। यूरोप की तरह फिर से लॉकडाऊन या मास्क, सुरक्षित दूरी और हाथों की स्वच्छता इस बात का हरेक व्यक्ति तक जनजागृति की जाए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget