23 नवंबर को भाजपा का बिजली बिल होली आंदोलन

राज्यव्यापी आंदोलन में भाग लें आम नागरिक: पाटिल

Chandrakant Patil

मुंबई

राज्य की शिवसेना-कांग्रेस और राकांपा आघाड़ी सरकार ने बिजली बिलों में सहूलियत देने के इंकार कर दिया है। इसके विरोध में 23 नवंबर को भाजपा की तरफ से राज्यव्यापी बिजली बिल होली आंदोलन किया जाएगा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने आम नागरिकों से इस आंदोलन में बड़ी संख्या में भाग लेने की अपील की है।

पाटिल ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान राज्य के नागरिकों को बिजली के बढ़े हुए बिल भेजे गए। इस बारे में महाविकास आघाड़ी सरकार ने रियायतें देने की घोषणा की थी, लेकिन अब सरकार के ऊर्जा मंत्री ने स्पष्ट रूप से कहा कि हम राहत नहीं दे पाएंगे और नागरिकों को बिलों का भुगतान करना पड़ेगा। दूसरी तरफ महावितरण सख्ती से बिजली बिल वसूली करने का प्रयास कर रही है। पाटिल ने कहा कि महाविकास आघाड़ी सरकार ने जनता से विश्वासघात किया है। इस सरकार को जगाने के लिए भाजपा ने सभी जगह बिजली बिलों की होली आंदोलन करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान आर्थिक लेने-देन ठप्प होने से नागरिकों को भारी आर्थिक नुकसान सहना पड़ा। ऐसी स्थिति में राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार को अन्य राज्यों की तरह रोजाना कमाने-खाने वाले श्रमिकों, फेरीवालों, किसानों, रिक्शा चालकों, टैक्सी चालकों के लिए पैकेज घोषित करना चाहिए था, लेकिन सरकार ने पैकेज घोषित नहीं किया। इसके उलट बिजली कंपनियों के कुप्रबंधन के कारण बड़े हुए बिजली बिल आए। इस बारे में सरकार कोई राहत देने को तैयार नहीं है, ऐसे में भाजपा ने जनता के हित के लिए सड़कों पर उतरने का फैसला लिया है। सोमवार को जगह-जगह भाजपा के कार्यकर्ता बिजली बिल की होली जलाकर सरकार का ध्यान आकर्षित करेंगे। जनता को इस आंदोलन का समर्थन करना चाहिए।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget