2.5 लाख से अधिक आय पर अदा करें टैक्स

Income Tax

नई दिल्ली

कोरोना महामारी के चलते लाखों लोग बेरोजगार हो गए हैं या उनकी आय कम हो गई है। ऐसे में इस बार बहुत सारे लोग आयकर रिटर्न भरने को लेकर संशय में है कि उनको आयकर रिटर्न भरना है या नहीं। कर विशेषज्ञों का कहना है कि अगर किसी व्यक्तिगत करदाता जिसकी उम्र 60 साल से कम और सालाना आय 2.5 लाख रुपये से अधिक है उसे आयकर रिटर्न जर भरना चाहिए। अगर, करदाता ऐसा नहीं करते हैं तो निश्चित तौर पर आयकर विभाग से टैक्स नोटिस आने के आसार बढ़ जाते हैं।

31 नवंबर है अंतिम तिथि

देश में कोरोना संकट को देखते हुए आयकर रिटर्न की तिथि फिर से बढ़ाई गई है। इस साल टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 31 नवंबर 2020 कर दी गई है। आप इसके बाद भी यानी 31 मार्च 2021 तक भी रिटर्न फाइल कर सकते हैं, लेकिन आपको जुर्माना देना होगा। 31 मार्च के बाद यानी असेसमेंट ईयर के गुजरने के बाद आप टैक्स रिटर्न फाइल नहीं किया जा सकता है।

मूल छूट सीमा से अधिक कुल आय

अगर किसी व्यक्ति की कुल आय निवेश और खर्च में कटौती के विभिन्न विकल्पों का लाभ उठाने के मुकाबले मूल छूट सीमा से अधिक है तो उसे आईटीआर दाखिल करना होगा।

ऐसे में आयकर कानून की धारा-80 सी, 80 सीसीडी, 80 डी, 80 टीटीए, 80 टीटीबी के तहत कटौती का लाभ उठाया जा सकता है। कटौती विकल्प होम लोन, जीवन बीमा प्रीमियम, स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम, ईपीएफ, पीपीएफ, एनपीएस खातों में योगदान, बैंकों से ब्याज, बच्चों के लिए ट्यूशन शुल्क के पुनर्भुगतान के लिए उपलब्ध है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget