ग्रामीण क्षेत्र में 8.82 लाख घर बनाएगी सरकार

सीएम ने की महाआवास अभियान की शुरुआत

Uddhav Thackeray

मुंबई

प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में सस्ते आवास को प्रोत्साहन देने के लिए राज्य सरकार ने 'महाआवास अभियान' की शुरुआत की। शुक्रवार को सहयाद्रि अतिथिगृह में मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे ने इस अभियान का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस अभियान के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग 8.82 लाख घरों को बनाने का निर्णय लिया गया है। सभी को संयुक्त भागीदारी के माध्यम से अभियान को सफल बनाना चाहिए।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने योजना पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इस महाअभियान को ग्रामीण क्षेत्र में 20 नवंबर से 28 फरवरी 2021 तक चलाया जाएगा। इसके तहत विभिन्न आवास योजनाओं से 8 लाख 82 हजार 135 घरों का निर्माण करने का निर्णय लिया गया है। ठाकरे ने आगे कहा कि घरों का निर्माण करते समय उन्हें मजबूत बनाने के लिए सावधानी बरती जानी चाहिए। ऐसे आदर्श और सुंदर घर बनाने चाहिए, ताकि लोग आराम से रह सकें। लाभार्थियों को जगह, बैंक ऋण के साथ घर के लिए शौचालय, जमीन जैसे संपूर्ण पैकेज दिए जा रहे हैं। यह योजना निश्चित रूप से सफल होगी। ठाकरे ने यह भी कहा कि ग्रामीण आवास योजनाओं के लिए धन की कोई कमी नहीं होगी। काय्रर्कम में उपस्थित ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग ने अगले 100 दिनों में लगभग 8 लाख 82 हजार घर बनाने का फैसला किया है। इस पर करीब 4,000 करोड़ रुपए खर्च होने की उम्मीद है। सरकारी जमीनों पर आवासीय अतिक्रमणों को नियमित करने के लिए जिन लोगों के पास घरों के लिए जगह नहीं है उन्हें उपलब्ध कराने के लिए विभिन्न उपाय किए जाएंगे। अभियान को प्रभावी रूप से लागू किया जाएगा। अब्दुल सत्तार ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचे के निर्माण में तेजी लाई गई है। अब, 100 दिनों में लागू होने वाले महाआवास अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन के साथ इस तरह से नियोजन किया जाएगा कि प्रत्येक बेघर व्यक्ति को एक घर मिल जाएगा। इस अभियान से ग्रामीण बेघरों और गरीबों को बड़ी राहत मिलेगी।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget