कोरोना काल में मतदाताओं ने बेखौफ होकर डाले वोट

५४.६३ फीसदी वोटिंग १० को रिजल्ट 

पटना 

राज्य में तीसरे और आखिरी चरण के मतदान का समय खत्म होने के साथ ही बिहार विधानसभा चुनाव 2020 संपन्न हो गया है। तीसरे और आखिरी चरण में 54.63 फीसदी मतदान हुआ है। वोटिंग के दौरान जहां कई जिलों में वोट का बहिष्कार किया गया, वहीं दो मुजफ्फरपुर और सुपौल में दो मतदान कर्मियों की मौत हो गई है। पूर्णिया में मतदान केंद्र संख्या 282 पर पैरामिलिट्री फोर्स की हवाई फायरिंग और दो-तीन जगहों पर हंगामे को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। तीसरे चरण में कई जगहों पर वोट बहिष्कार के बावजूद वोटरों का उत्साह चरम पर था। कई अररिया, सुपौल, मोतिहारी समेत कई जिलों में ईवीएम में खराबी की वजह से धीमी गति से मतदान शुरू हुआ, लेकिन दोपहर आते-आते मतदान की गति तेज हो चुकी थी। 

मतदान खत्म होने के साथ ही 15 जिलों की 78 सीटों के लिए विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और बिहार सरकार के 11 मंत्रियों सहित 1204 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है। अब इसका खुलासा 10 नवंबर को मतगणना के दिन होगा। 

मधुबनी में वोटिंग के दौरान मारपीट 

मधुबनी में वोटिंग को लेकर बिस्फी सीट के तीसी नारसाम गांव में दो गुटों के बीच मारपीट हो गई। इस दौरान बूथ से भागने के दौरान में एक युवक का पैर टूट गया। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर जांच के लिए डीएसपी अरुण सिंह पहुंचे तब जाकर मामला शांत हुआ। 

सहरसा में बेंगहा गांव से करहरा घाट कोसी तटबंध पर नाव से मतदान को जाते करहरा बूथ के मतदाता 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget